Home उत्तराखंड सीएम धामी के एक्शन के बाद अन्य विभागों में भी हडकंप, प्रारंभिक...

सीएम धामी के एक्शन के बाद अन्य विभागों में भी हडकंप, प्रारंभिक शिक्षा विभाग ने जारी किया नया आदेश…

35
SHARE

बुधवार को प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने देहरादून आरटीओ कार्यालय का औचक निरीक्षण कर समय से कार्यालय न आने पर आरटीओ को सस्पेंड कर दिया तो वहीं अन्य अनु्पस्थित कर्मचारियों के वेतन रोकने के निर्देश दिए। सीएम के इस एक्शन के बाद अन्य विभागों में भी हडकंप मचा हुआ है। अब प्रारंभिक शिक्षा विभाग निदेशक वंदना गब्यार्ल ने आदेश जारी कर अधिकारियों/कर्मचारियों को आगाह करते हुए कहा है कि प्रायः देखा जा रहा है कि कार्मिक/अधिकारी विलम्ब से कार्यालय में आते हैं, जिससे जनसमस्याओं का त्वरित निस्तारण नहीं हो पाता है। साथ ही कार्मिकों की इस प्रवृत्ति से विभाग की छवि पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। निदेशक वंदना गर्ब्याल ने चेतावनी व एक्शन की बात कहते हुए विभागीय अधिकारियों व कार्मिकों को अलर्ट किया है।

निदेशक द्वारा जारी आदेश में कहा गया है प्रायः देखा जा रहा है कि कार्मिक/ अधिकारी विलम्ब से कार्यालय में आते हैं, जिससे जनसमस्याओं का त्वरित निस्तारण नहीं हो पाता है। साथ ही कार्मिकों की इस प्रवृत्ति से विभाग की छवि पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है।

अतः सभी कार्यालयाध्यक्ष / अनुभाग अधिकारी / मुख्य प्रशासनिक अधिकारी यह सुनिश्चित करेगें कि वे स्वयं तथा उनके अधीनस्थ कार्यरत कर्मचारी प्रातः 10.00 बजे तक प्रत्येक दशा में कार्यालय में उपस्थित हो जाएं। यदि कोई अधिकारी / कर्मचारी प्रातः 10.10 बजे बाद कार्यालय में आता है तो उसे प्रथम बार मौखिक चेतावनी द्वितीय बार विलम्ब से आने पर लिखित चेतावनी तथा तृतीय बार विलम्ब से आने पर उसके विरूद्ध वेतन काटने / विभागीय अनुशासनात्मक कार्यवाही प्रारम्भ कर दी जाएगी। यह सम्बन्धित अधिकारी / कर्मचारी की व्यक्तिगत पत्रावली में भी रखी जाएगी।

यह भी परिज्ञान में आया है कि मध्याहन भोजन के समय एवं इसके उपभोग के बारे में निर्धारित व्यवस्था का अनुपालन नहीं किया जा रहा है, जिससे आम जनता को कार्यालयों में आने पर असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। राजाज्ञा दिनांक 04 जनवरी, 2006 में वर्णित व्यवस्थानुसार मध्याहन भोजन का समय 01.00 बजे अपराह्न से 02.30 बजे अपराहन के मध्य केवल आधे घण्टे का होगा और इस अवधि में ही प्रत्येक अधिकारी / कर्मचारी मध्याहन भोजन के लिए निर्धारित समय का उपयोग करेगें। विभाग के प्रत्येक कार्यालय में वरिष्ठ अधिकारी / कार्मिक अपने कार्यालय / अनुभाग में कार्यरत् कर्मचारियों के आधे घण्टे के मध्याह्न भोजन का समय इस प्रकार निर्धारित करेगें कि एक बार में लगभग एक तिहाई कर्मचारी ही मध्याहन भोजन पर जायेंगे। जहां पर एक अधिकारी एवं एकल कर्मचारी ही हों वहां पर वे आपस में मध्याहन भोजन का समय इस प्रकार तय करेगें कि उनमें से एक कार्यालय / अनुभाग में अवश्य उपस्थित रहे।

अतः विद्यालयी शिक्षा विभाग के अन्तर्गत कार्यरत् सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों की कार्यकुशलता, क्षमता में वृद्धि तथा जनसमस्याओं के त्वरित निराकरण एवं विभाग को संवेदनशील, पारदर्शी एवं भ्रष्टाचार मुक्त बनाने के उद्देश्य से निर्देशित किया जाता है कि उत्तराखण्ड शासन के कार्यालय ज्ञाप, संख्या 671 दिनांक 20 अगस्त 2009 एवं राजाज्ञा, संख्या- 994 दिनांक 04 जनवरी, 2006 में वर्णित उक्त निर्देशों / आदेशों का कड़ाई से परिपालन सुनिश्चित करें / कराएं।