Home अपना उत्तराखंड उत्तरकाशी राजकीय महाविद्यालय बड़कोट के टॉपर्स छात्र-छात्राओं को कुलपति डॉ० ध्यानी ने किया...

राजकीय महाविद्यालय बड़कोट के टॉपर्स छात्र-छात्राओं को कुलपति डॉ० ध्यानी ने किया सम्मानित…..

27
SHARE

राजेन्द्र सिंह रावत राजकीय महाविद्यालय बड़कोट में श्री देव सुमन उत्तराखंड विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ० पी०पी० ध्यानी टॉपर्स छात्र-छात्राओं व उत्कृष्ट कार्य करने वाले विद्यार्थियों को सम्मानित करने हेतु आयोजित सम्मान समारोह कार्यक्रम में पहुंचे, महाविद्यालय परिसर में पहुंचने पर छात्र-छात्राओं, कर्मचारियों एवं प्राध्यापक/प्राध्यापिकाओं ने उनका भव्य स्वागत किया।

कुलपति ने सर्वप्रथम शहीद दीवार पर शहीदों को पुष्पांजलि अर्पित की। तत्पश्चात उन्होंने गृह विज्ञान के विभाग की प्रदर्शनी, कला संकाय द्वारा रंवाई की सांस्कृतिक विरासत तथा विज्ञान संकाय द्वारा रोजमर्रा की ज़िन्दगी में विज्ञान पर पोस्टर प्रतियोगिता का अवलोकन किया। इसके बाद उन्होंने सम्मान समारोह कार्यक्रम का दीप प्रज्वलित कर शुभारंभ किया। इस अवसर छात्र-छात्राओं ने विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए।

इस अवसर पर महाविद्यालय में वर्ष 2020-2021 में टॉपर्स छात्र-छात्राओं में बी० एस-सी० से कु. कंचनबाला, कु. अंशिका डिमरी, कु. आंचल तथा बी० ए० से कु. नीतिका, कु. खुशबू, कु. काजल को कुलपति द्वारा पुरस्कृत कर सम्मानित किया गया। इसी के साथ एंटी ड्रग्स से पूर्व में आयोजित प्रतियोगिता के तीन उत्कृष्ट छात्र-छात्राओं, एन.सी.सी. के तीन विशिष्ट छात्र-छात्राओं एन.एस.एस. के तीन विशिष्ट छात्र-छात्राओं एवं रोवर्स-रेंजर्स के तीन विशिष्ट छात्र-छात्राओं को कुलपति महोदय द्वारा पुरस्कृत किया गया।

विद्यालय द्वारा इस वर्ष विभिन्न विषयों की विभागीय परिषद के अंतर्गत की गई गतिविधियों में विषय हिंदी, अंग्रेजी, संस्कृत, राजनीति विज्ञान, गृह विज्ञान, समाजशास्त्र,भूगोल भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, वनस्पति विज्ञान, जंतु विज्ञान, गणित अर्थशास्त्र एवं इतिहास में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को भी पुरस्कृत किया गया।

कुलपति डॉ० पी० पी० ध्यानी ने छात्र व छात्राओं को संबोधित करते हुए विभिन्न बातों पर छात्रों का ध्यान आकर्षित किया और उन्हें सफलता प्राप्त करने हेतु कई महत्वपूर्ण सुझाव दिए। उन्होंने कहा कि हमेशा ऐसा सोचना यह चाहिए कि मैं एक महत्वपूर्ण इंसान हूं। अपने में खुश होना चाहिए, अपने जीवन में अपनी परिधि से बाहर ज्ञान प्राप्त करने की सकारात्मक सोच रखनी चाहिए और नकारात्मक सोच को हटाना चाहिए। हमेशा संतुष्ट रहने एवं आत्म चिंतन करने की आवश्यकता होनी चाहिए, असफलता को सफलता में बदलने की सोच विकसित करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि महाविद्यालय को विश्वविद्यालय द्वारा जितना हो पाएगा, उतनी मदद की जाएगी।

उन्होंने महाविद्यालय के कर्मचारी, प्राध्यापकों एवं छात्र-छात्राओं की भूरी भूरी प्रशंसा की। सम्मान समारोह कार्यक्रम के अंत में महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ. अंजू भट्ट ने कुलपति को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया, एवं कुलपति का महाविद्यालय में पधारने पर कुलपति का आभार व्यक्त किया। कुलपति डॉ. ध्यानी द्वारा महाविद्यालय परिसर में पौधारोपण भी किया गया। कुलपति द्वारा प्राचार्य एवं शिक्षकों के मध्य राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के उन्नयन एवं क्रियान्वयन के संबंध में विस्तृत विचार विमर्श किया गया और राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन में आ रही समस्याओं का निराकरण किया।

उक्त कार्यक्रम के अवसर पर महाविद्यालय के प्राध्यापक डॉ. जगदीश चंद्र रस्तोगी, डॉ० बी. एल. थपलियाल, डॉ. संगीता रावत,‌ डॉ. विनय शर्मा, डॉ. दिनेश शाह, डॉ. दया प्रसाद ने गैरोला, डॉ. अविनाश मिश्रा, डॉ. प्रमोद नेगी, डॉ. अर्चना कुकरेती, पूनम, शीतल, राहुल राणा, शार्दुल विष्ट, दीपेंद्र, दीपक, यशपाल, दुर्गा लाल एवं उपेन्द्र सिंह सहित छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।