Home उत्तराखंड उत्तराखंड- बेकाबू रोडवेज बस ने मचाया कहर, घटना में कई लोग घायल…

उत्तराखंड- बेकाबू रोडवेज बस ने मचाया कहर, घटना में कई लोग घायल…

30
SHARE

उत्तराखंड के टनकपुर में गुरूवार को एक बड़ा हादसा होने से टल गया। यहां एक मानसिक रूप से बीमार चालक टनकपुर रोडवेज स्टेशन में खड़ी बस को जबरन उड़ा ले गया। इसके बाद टनकपुर से करीब आठ किमी दूर फागपुर गेट के समीप रोडवेज की बस खड़े ट्रक से जा टकराई। बताया जा रहा है कि रोडवेज ने एक कार को भी टक्कर मारी है। हादसे में ट्रक में सवार चार लोग घायल हो गए, जबकि बस चालक गंभीर रूप से घायल हो गया। प्राथमिक उपचार के बाद बस चालक को हायर सेंटर रेफर किया गया। चार अन्य घायलों को टनकपुर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

हादसे में ट्रक में सवार चार लोग बुरी तरह घायल हो गए। जबकि बस चालक गंभीर रूप से घायल हो गया। आसपास के लोगों ने ट्रक में सवार मोतीराम (19) पुत्र राम अवतार, कृष्ण कुमार (24) पुत्र राम विलास, मोहन स्वरूप (19) पुत्र नंद किशोर स्वरूप निवासी पीलीभीत, किशन कुमार (28) पुत्र शिव कुमार निवासी टैक्सी स्टैंड टनकपुर और बस चालक को टनकपुर अस्पताल में भर्ती कराया। हादसे में बस और ट्रक के अगले हिस्से बुरी तरह क्षतग्रिस्त हो गए। रोडवेज के अधिकारियों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची।

छीनीगोठ निवासी चालक मोहन चंद्र बीते कुछ समय से मानसिक रूप से अस्वस्थ चल रहा है। इस वजह से वह बीते छह माह से ड्यूटी पर नहीं आ रहा था। चालक मोहन के भाई केशव चंद्र ने बताया वह गुरुवार सुबह घर से बेलचा लेकर निकला था। इसकी सूचना केशव ने फोन से पुलिस को दी थी। बताया जा रहा है घर से निकलने के बाद मोहन चंद्र रोडवेज स्टेशन पहुंचा। जहां उसने साथी बस चालक सुरेश राणा और परिचालक पूरन सिंह को बेलचा दिखाकर धमकाया और रोडवेज से बस लेकर बनबसा की ओर भगा ले गया।

एआरएम टनकपुर के. एस. राणा ने बताया कि संविदा पर तैनात बस चालक मोहन चंद्र कलौनी लंबे समय से मानसिक रूप से बीमार चल रहा है। इस कारण वह छह माह से ड्यूटी पर भी नहीं आया है। गुरुवार को बस चालक ने टैक्सी स्टैंड में एक बाइक सवार को शीशे के टुकड़े की नोंक पर बस अड्डे पहुंचाने को कहा। बस स्टेशन पहुंचकर उसने रोडवेज के चालक और परिचालक को धमकाया। इसके बाद वह बस को बनबसा की ओर दौड़ा ले गया, जहां रोडवेज की बस खड़े ट्रक से जा टकराई। आरोपी बस चालक के खिलाफ टनकपुर कोतवाली में तहरीर दी गई है।