Home उत्तरप्रदेश पुलिस और संतो ने मिल कर बांटे मिट्टी से बने मटके

पुलिस और संतो ने मिल कर बांटे मिट्टी से बने मटके

544
SHARE

मथुरा श्री हरिदासीय राधा प्रसाद सेवा ट्रस्ट के तत्वावधान में स्वामी श्री हरिदास पीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी श्री राधा प्रसाद देवजू के परम सानिध्य में शनिवार की दोपहर को असहाय व निर्धनता माताओं को भीषण गर्मी में ठंडे जल की सुविधा हेतु करीब 1100 मटको का वितरण किया गया। मटको का वितरण रसिक संत महंत मोहनी बिहारी शरण महाराज के द्वारा चैतन्य विहार स्थित महिला सेवा सदन, सुनरख मार्ग स्थित कृष्णा कुटीर, परिक्रमा मार्ग स्थित मैत्री भवन और निज आश्रम श्री ललित कुंज और श्री राधा प्रसाद धाम से मटको का वितरण किया गया और किया जाएगा।

वही इस मौके पर श्री स्वामी हरिदासिय पीठाधीश्वर स्वामी महामंडलेश्वर राधा प्रसाद देव जू महाराज ने कहा कि जल ही जीवन है और जीवात्मा की सेवा करना ही सनातन धर्म में सर्वोपरि माना गया है। ऐसा कहा जाता है, कि जीवात्मा की सेवा करने से ठाकुर जी की परम कृपा की प्राप्ति होती है। वही इस भीषण गर्मी में ट्रस्ट व आश्रम के अनुयायियों के सहयोग से लगातार 30 वर्षों से श्री हरिदासीय राधा प्रसाद सेवा ट्रस्ट दीन दुखियों एवंगरीब असहाय विधवा माता नेत्रीहिन एवं गौ माता की सेवा करता रहा है। माताओं के लिए यह मटके खास तौर पर राजस्थान से सेवा हेतु मगाए जाते हैं। वही इस भीषण गर्मी में आश्रम के द्वारा जगह-जगह पर गाय माता और पक्षियों के लिए भी जल पात्रों की व्यवस्था की जाती है।

साथ ही इस मौके पर मोहिनी बिहारी शरण महाराज ने कहा कि पूज्य सदगुरुदेव महामंडलेश्वर स्वामी श्री राधा प्रसाद देव जू महाराज के आज्ञा अनुसार करीब 30 वर्षों से सेवाएं निरंतर चली आ रही परम्परा का निर्वहन करते हुए गरीब विधवा माताओ और साधुओ के लिए भीषण गर्मी में ठंडे जल हेतु मटको का वितरण किया गया है। यह मटके राजस्थान से मंगाए जाते है। इन मटको को गरीबो का फ्रिज भी कहा जाता है। उन्होंने कहा कि गरीब विधवा माताओं के लिए भीषण गर्मी में पेयजल का संकट गहरा जाता है, क्योंकि कोरोना के बाद से यहां पर फ्रिज का पानी पीना मना है। जिसके चलते माताओ को ठंडा पानी मुहैया नही होता है। इसी परेशानी को देखते हुए श्री हरिदासीय राधा प्रसाद सेवा ट्रस्ट के द्वारा मटके रूपी गरीब फ्रिजों का वितरण किया गया है। जिससे कि माताओं को ठंडे पानी की सुविधा हो सके