Home उत्तराखंड कांग्रेस ने अब कुमाऊं में 3 पदाधिकारियों को पार्टी से किया निष्कासित,...

कांग्रेस ने अब कुमाऊं में 3 पदाधिकारियों को पार्टी से किया निष्कासित, हरीश रावत के खिलाफ दुष्प्रचार का आरोप….

89
SHARE

उत्तराखण्ड विधानसभा चुनाव में इस बार दल-बदल का खेल खूब देखने को मिला तो वहीं पार्टी विचारधारा के खिलाफ जाने वालों पर राजनीतिक दलों द्वारा कार्रवाई भी देखने को मिली। अब जबकि सबकी नजरें मतगणना की तिथि पर टिकी हुई है, तो ऐसे में पार्टियों को भीतरघात का डर भी सता रहा है। प्रदेश में कांग्रेस व बीजेपी की बात की जाए तो दोनों ही दल पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल कई नेताओं पर अनुशासन का डंडा चला चुकी हैं।

वहीं कांग्रेस ने एक बार कुमाऊं में 3 पदाधिकारियों पर अनुशासन का डंडा चलाया है। इन पदाधिकारियों पर विधानसभा चुनाव में पूर्व सीएम हरीश रावत के खिलाफ दुष्प्रचार करने के आरोप लगे हैं। जिसके चलते इन्हें छह वर्ष के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है। पार्टी ने बताया कि शिकायत मिली थी कि विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान कुछ पदाधिकारियों ने लालकुआं सीट से चुनाव लड़ रहे पूर्व सीएम हरीश रावत के खिलाफ काम किया। नैनीताल कांग्रेस के जिलाध्यक्ष सतीश नैनवाल ने बताया कि जांच में जिला उपाध्यक्ष कांग्रेस भूपाल सिंह सम्मल, जिला संगठन मंत्री मनोज पौडियाल और न्याय पंचायत क्षेत्र अध्यक्ष भगवान सिंह सम्मल की पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्तता साबित हुई। इस पर तीनों को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया गया है।