Home अपना उत्तराखंड बोर्डिंग में दो छात्रों ने किया एक छात्र का कत्ल, मृतक के...

बोर्डिंग में दो छात्रों ने किया एक छात्र का कत्ल, मृतक के पिता ने कहा कुछ ऐसा भर आएगी आंख

1905
SHARE
दो दिन पूर्व ऋषिकेश की चिल्ड्रन होम अकादमी में कक्षा सात के छात्र वासु की हत्या का मामला सामने आया था। मृतक के पिता ने कुछ ऐसी बातें बताई, जिन्हें पढ़कर आपकी आंख भर आएगी।

हिंदुस्तान टाइम्स में छपी एक खबर के मुताबिक मृतक छात्र के पिता ने कहा कि ‘मुझे विश्वास नहीं होता कि मेरे बेटे की हत्या कर दी गई है। मुझे ऐसा एहसास हो रहा है कि वह अभी भी जीवित है और मेरे सामने साइकिल चला रहा है। उसे साइकिल चलाना बेहद पसंद था। वह हमेशा आश्रय घर में मुझसे मिलने आता था। हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक मृतक छात्र के पिता कुष्ठ रोग से पीड़ित हैं और वह उत्तर प्रदेश के एक आश्रय घर में रहते हैं। उन्होंने बताया कि विगत 10 मार्च को स्कूल प्रबंधन की तरफ से फोन आया, उन्होंने बताया कि वासु बीमार है। मैं सब कुछ छोड़ कर उसी दिन अस्पताल पहुंचा। जहां मुझे पता चला कि उसकी मौत हो गई है। अस्पताल में स्कूल स्टाफ का कोई सदस्य मौजूद नहीं था। मैंने डॉक्टरों से पूछा तो उन्होंने बताया कि वासु को उल्टियां हो रही थीं और उसके शरीर पर कुछ घाव भी थे। पुलिस के अनुसार फिलहाल स्कूल का कोई भी छात्र इस घटना के बारे में बात करने को तैयार नहीं है।’

प्रिंसिपल सीबीएसई के क्षेत्रीय कार्यालय में तलब
वहीं हत्या के मामले में चिल्ड्रन होम अकादमी के प्रिंसिपल को गुरुवार को सीबीएसई के क्षेत्रीय कार्यालय में तलब किया गया। प्रिंसिपल ने अपना पक्ष रखते हुए बताया कि घटना स्कूल परिसर में नहीं हुई बल्कि स्कूल से दूर एक हॉस्टल में हुई है।

दो दिन पूर्व रानीपोखरी (ऋषिकेश) में चिल्ड्रन होम अकादमी के कक्षा सात के छात्र की दो साथी छात्रों ने बैट से पीट-पीटकर हत्या का मामला सामने आया था। इस मामले में पुलिस दो आरोपी छात्रों और दो शिक्षकों को जेल में डाल चुकी है। घटना की गंभीरता को देखते हुए सीबीएसई ने स्कूल के प्रिंसिपल को क्षेत्रीय कार्यालय में तलब किया था।

प्रिंसिपल सीबीएसई के क्षेत्रीय अधिकारी रणबीर सिंह के कार्यालय में पहुंचे। क्षेत्रीय अधिकारी ने पूछताछ के बाद मिली जानकारी के आधार पर रिपोर्ट सीबीएसई के केंद्रीय कार्यालय दिल्ली को भेज दी है।

सीसीटीवी कैमरे नहीं लगाने वाले चालान की चेतावनी
चिल्ड्रन होम अकादमी के छात्र वासु यादव (12) की मौत के बाद रानीपोखरी पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे नहीं लगाने वाले स्कूलों के शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। सीसीटीवी कैमरे नहीं लगाने वाले स्कूलों का चालान करने की चेतावनी दी है।

बता दें, रानीपोखरी पुलिस ने डेढ़ माह पूर्व क्षेत्र के सभी शिक्षण संस्थानों के संचालकों के साथ बैठक की थी। बैठक के दौरान थानाध्यक्ष पीडी भट्ट ने सभी को हाईकोर्ट के आदेशों के अनुसार शिक्षण संस्थानों में सीसीटीवी कैमरे तथा सुरक्षा गार्ड लगवाने के निर्देश दिए थे।

बैठक में सभी शिक्षण संस्थानों के संचालकों ने सहमति जताई थी, लेकिन चिल्ड्रन होम अकादमी की घटना से पोल खुल गई है। थानाध्यक्ष पीडी भट्ट ने बताया कि क्षेत्र के ऐसे सभी संस्थानों को चिह्नित किया जाएगा। जहां सुरक्षा कर्मी तथा सीसीटीवी कैमरे नहीं हैं। इसके बाद उन संस्थानों का पुलिस एक्ट में चालान भी किया जाएगा।

चश्मदीदों के हुए बयान दर्ज
चिल्ड्रन होम अकादमी में अध्ययनरत छात्र वासु यादव की हत्या के दो चश्मदीदों के गुरुवार को न्यायालय में बयान दर्ज हुए। थानाध्यक्ष रानीपोखरी पीडी भट्ट ने बताया कि हत्या के दो चश्मदीदों के बयान न्यायिक मजिस्ट्रेट ऋषिकेश आलोक कुमार त्रिपाठी की अदालत में देर शाम दर्ज हुए।

क्या हुआ था बोर्डिंग में…
घटना का सनसनीखेज खुलासा करते हुए थानाध्यक्ष पीडी भट्ट ने बताया था कि आरोपी 12वीं के छात्रों ने क्रिकेट बैट से पीट-पीटकर मासूम की हत्या की थी। विवेचना के दौरान जानकारी हासिल हुई कि 10 मार्च को वासु ने चर्च जाते समय रास्ते की एक दुकान पर बिस्कुट का पैकेट चोरी कर लिया गया, जिसकी शिकायत दुकानदार लेखपाल ने चर्च में जाकर की।
इसके बाद प्रबंधन ने वासु को डांटा और छात्रों को बिना अनुमति के आउटपास जाने से रोकने के निर्देश जारी किए। इंसानियत की सभी हदें पार करते हुए आरोपी छात्रों ने पहले तो मासूम को क्रिकेट के बैट और विकेट से पीटा। जब बच्चा अधमरा हो गया तो आरोपी उसे छत पर ले गए और उसे ठंडे पानी से नहलाया।
पांचों आरोपी गिरफ्तार
बच्चे की हालत गंभीर होने के बावजूद भी आरोपी नहीं रुके और उसे गंदा पानी पिलाया और जबरदस्ती खाना खिलाया। जब बच्चा बेहोश हो गया तो आरोपी उसे स्टडी रूम में छोड़कर अपने कमरे में चले गए। वार्डन अजय ने वासु को बेहोश देख 11 मार्च को हिमालयन अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसकी मौत हो गई। थानाध्यक्ष ने बताया उनकी निशानदेही पर मारपीट में प्रयुक्त क्रिकेट के बैट व विकेट भी बरामद कर लिए हैं।

छात्र वासु यादव की हत्या में पकड़े गए पांचों आरोपियों को पुलिस सीजेएम कोर्ट, देहरादून में पेश किया गया था, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया था। इनमें आरोपी छात्र शुभांकर 19 पुत्र गंगाधर निवासी एमडीडीए कॉलोनी डालनवाला देहरादून व लक्ष्मण 19 पुत्र मदन राय निवासी भटिंडा पंजाब दोनों हाल निवासी चिल्ड्रन होम एकेडमी भोगपुर को हत्या और तीन अन्य आरोपियों प्रबंधक प्रवीण मैसी निवासी पौड़ी गढ़वाल, व्यायाम शिक्षक अशोक सोलोमन निवासी भटिंडा और वार्डन अजय कुमार निवासी भोगपुर को साक्ष्य मिटाने के आरोप में चालान किया गया है।