Home उत्तराखंड उत्तराखण्ड – 5वीं विधानसभा का पहला सत्र आज से, राज्यपाल के अभिभाषण...

उत्तराखण्ड – 5वीं विधानसभा का पहला सत्र आज से, राज्यपाल के अभिभाषण से होगा आगाज….

73
SHARE

उत्तराखण्ड में नई सरकार बनने के बाद आज से विधानसभा का सत्र शुरु हो रहा है।राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल(रिटायर्ड) गुरमीत सिंह विधानसभा में धामी सरकार का विजन प्रस्तुत करेंगे। विधानसभा सत्र के पहले दिन बजट अभिभाषण के साथ लेखानुदान प्रस्तुत किया जाएगा। विधानसभा का पहला सत्र बिना महकमों के मंत्रियों और नेता प्रतिपक्ष की गैरमौजूदगी में शुरू होगा। राज्य सरकार ने अब तक मंत्रियों को विभाग नहीं बांटे हैं। काम चलाने के लिए केवल मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल को संसदीय और विधायी कार्य विभाग दिया गया है।

सत्र से पहले सोमवार को विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूड़ी की अध्यक्षता में विधानसभा की कार्यमंत्रणा समिति की बैठक हुई। बैठक में पांचवीं विधानसभा के पहले सत्र के पहले दिन का एजेंडा तय किया। विस अध्यक्ष ने कहा सदन के पहले दिन मंगलवार को राज्यपाल का बजट अभिभाषण होगा। उसके बाद सरकार लेखानुदान पेश करेगी। कहा राज्यपाल का बजट अभिभाषण सरकार का विजन होता है, जिसमें सरकार अपनी प्राथमिकताओं और भावी योजनाओं का खाका खींचती है। मंगलवार को फिर कार्यमंत्रणा की बैठक होगी, जिसमें बुधवार का एजेंडा तय होगा।

विधानसभा सत्र के लिए मुख्य सचिव एसएस संधु ने संबंधित अफसरों को तैयार रहने के निर्देश दिए। संधु ने कहा कि विधायकों की ओर से सदन में उठाए जाने वाले सवालों के जवाब तैयार किए जाएं।

मुख्य सचिव ने कहा कि भूकानून में संशोधन और हिमाचल की तर्ज पर भू कानून, महंगाई, बेरोजगारी, सिपाही 4600 ग्रेड पे, उपनल, पीआरडी, आउटसोर्स, संविदा कर्मचारियों के नियमितीकरण और समान काम का समान वेतन से जुड़े सवाल सदन में उठ सकते हैं। इसके साथ ही आपदा प्रभावित क्षेत्रों में वर्तमान तक राहत राशि न बंटने, पहाड़ों पर गर्भवती महिलाओं की मौत, स्वास्थ्य सुविधाओं के अभाव, राज्य आंदोलनकारियों के चिन्हिकरण, आरक्षण, पुरानी पेंशन बहाली, भोजनमाताओं का मानदेय बढ़ाने, अवैध खनन, गैरसैंण स्थायी राजधानी, नए जिलों का गठन, जंगली जानवरों से फसलों को बचाने, विभागों में खाली पदों को भरने, लोकायुक्त की नियुक्ति से जुड़े सवाल भी उठ सकते हैं।