Home उत्तराखंड टिहरी – जिलाधिकारी डॉ. सौरभ गहरवार ने लगाया जनता दरबार, 30 शिकायतें...

टिहरी – जिलाधिकारी डॉ. सौरभ गहरवार ने लगाया जनता दरबार, 30 शिकायतें हुई दर्ज….

144
SHARE

जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल डॉ. सौरभ गहरवार द्वारा आज अपने कार्यालय कक्ष में जनता मिलन कार्यक्रम के तहत जनता की समस्याएं सुनी गई। इस मौके पर 30 शिकायतें/अनुरोध पत्र दर्ज किये गए। जिलाधिकारी द्वारा प्रकरणों के निस्तारण हेतु समयसीमा निर्धारित कर संबंधित अधिकारियों को समयान्तर्गत प्रकरणों के निस्तारण करने के निर्देश दिये गये।

 

इस मौके पर ग्राम भेलुन्ता प्रतापनगर के रामकृष्ण जोशी ने प्रतापनगर पम्पिंग योजना निर्माण से अपने खेतों को हुए नुकसान एवं जंगली जानवर से हुए नुकसान का मुआवजा दिलाने का अनुरोध किया गया, जिस पर जिलाधिकारी द्वारा एसडीएम प्रतापनगर, अधिशासी अभियन्ता जल निगम एवं अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान को संयुक्त रूप से मौके पर जाकर निरीक्षण कर रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये हैं।

 

जगदीश कुलियाल सचिव भा.क.पा. उत्तराखण्ड ने गूलर- सालब -भगवासेरा घेराधार जमोला मोटरमार्ग के किमी 10 से आगे किमी. 20 तक के नव निर्माण एंव वन भूमि स्थानान्तरण करने का अनुरोध किया गया, प्रकरण के संबंध में अधिशासी अभियन्ता लोक निर्माण विभाग नरेन्द्रनगर को 10 किमी तक का स्टेट्स रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये। ग्राम सांकरी के प्रेमलाल भट्ट ने एनएच-94 ऑल वेदर रोड़ ग्राम सांकरी के ‘विला कुंआ‘ तोक के डम्पिंग जोन भुगतान करवाने का अनुरोध किया गया, जिस पर एडीएम/एसएलएओ को एक सप्ताह में प्रकरण का निस्तारण करने के निर्देश दिये गये।

 

एडवोकेट कोटे कम्पाउंड नई टिहरी देवेन्द्र सिंह दुमोगा ने तहसील प्रतापनगर के अन्तर्गत तेलुंगा मांजफ-घोल्डानी मोटर मार्ग हेतु अधिग्रहित फलदार वृक्षों के मुआवजे की गई, इस पर जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियन्ता लोक निर्माण विभाग टिहरी को 15 दिन में आवश्यक कार्यवाही कर निस्तारित करने के निर्देश दिये। प्रदीप सजवाण निवासी ई-ब्लॉक नई टिहरी ने भूमिधर विस्थापित की हैसियत से आंवटित प्लाट पर अवैध अतिक्रमण की शिकायत की गई, जिस पर एसडीएम टिहरी को 03 दिवस में जांच कर रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये।

 

इसके अलावा जनता मिलन कार्यक्रम में राशन कार्ड बनवाने, भूमि आंवटन लाटरी में सम्मिलित करने, विस्थापित भवन/जमीन स्वामियों की निःशुल्क रजिस्ट्री करवाने, घर के आंगन से बिजली का पोल हटाने, खाता खतौनी/भू-अभिलेख में नाम दर्ज करने, जल जीवन मिशन के तहत लाभान्वित करने, नया अन्तोदय राशन कार्ड बनवाने, नई सड़क का सर्वे, मलबे से दबे सिचिंत खेतों की स्लेब सफाई हेतु अनुमति, ऑन लाइन मोबाइल मॉनिटरिंग के द्वारा हाजरी न लगने आदि शिकायते/अनुरोध पत्र दर्ज किये गये, जिनके संबंध में जिलाधिकारी द्वारा संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए तत्काल निस्तारित करने के निर्देश दिये गये।