Home अपना उत्तराखंड पौड़ी गढ़वाल : गुलदार ने 10 साल की बच्ची को मार डाला…

पौड़ी गढ़वाल : गुलदार ने 10 साल की बच्ची को मार डाला…

1179
SHARE

उत्तराखंड में इंसानी बस्तियां जंगलों के भीतर तक फैलती जा रही हैं, जिस वजह से जंगल सिमट गए हैं। जंगल में जगह और शिकार कम होने की वजह से जंगली जानवर इंसानों पर हमला कर रहे हैं। गुलदार नरभक्षी हो रहे हैं, लोगों की जान ले रहे हैं। पौड़ी में गुलदार ने 10 साल की मासूम को अपना निवाला बना लिया। बच्ची के साथ मौजूद दो महिलाएं भी गुलदार के हमले में घायल हुई हैं, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में दाखिल कराया गया है। गुलदार के हमले की ये घटना पाबौ क्षेत्र में आने वाले सरना गांव में हुई। देर शाम छह बजे गांव में रहने वाली दो महिलाएं विमला देवी, विनीत देवी और 10 साल की मिताली खेतों में काम कर घर वापस लौट रही थीं। इसी दौरान घात लगाए गुलदार ने इन तीनों पर हमला कर दिया।

अचानक हुए हमले से महिलाएं बुरी तरह घबरा गईं, तभी एक महिला ने हिम्मत दिखाई और गुलदार पर दरांती से वार कर दिया। इससे ये महिला तो किसी तरह बच गई, लेकिन 10 साल की मिताली खुद को गुलदार से नहीं बचा पाई।

गुलदार ने मासूम को अपना निवाला बना लिया। महिलाओं की चीख-पुकार सुनकर ग्रामीण मौके पर पहुंचे और घायल महिलाओं को अस्पताल में दाखिल कराया। दोनों महिलाओं को इलाज के लिए जिला अस्पताल पौड़ी में भर्ती कराया गया है। वहीं बच्ची की मौत के बाद क्षेत्र में कोहराम मचा हुआ है, परिजन रो-रोकर बेसुध हो गए हैं। नरभक्षी गुलदार की सक्रियता से गांव के लोग डरे हुए हैं, लोग घरों से बाहर तक नहीं निकल रहे। वहीं एसडीओ ने इस मामले में वाइल्ड लाइफ चीफ को पत्र लिखा है। पत्र में नरभक्षी बाघ के हमले के बारे में बताया गया है। एसडीओ वन विभाग एमके बहुखंडी ने कहा कि गुलदार को पकड़ने के लिए पिंजरा भेज दिया गया है। जैसे ही गुलदार को मारने की अनुमति मिलेगी, विभाग नियमानुसार कार्रवाई करेगा।