Home अपना उत्तराखंड कूड़ा उठाने वाली कंपनी के खिलाफ पार्षद एकजुट…

कूड़ा उठाने वाली कंपनी के खिलाफ पार्षद एकजुट…

913
SHARE

हल्द्वानी: नगर निगम के अंतर्गत डोर-टू-डोर कूड़ा कलेक्शन करने वाली कंपनी के खिलाफ पार्षद एकजुट होकर निगम जा धमके। इस दौरान उन्होंने कूड़ा उठाने वाली ए टू जेड कंपनी पर मनमानी का आरोप लगाया। उनका कहना था कि वार्डों में नियमित रूप से कूड़ा उठाने में कंपनी कर्मचारी लापरवाही करते हैं।

शहर के तमाम वार्डों के पार्षद बुधवार को नगर निगम जा धमके और नगर आयुक्त चंद्र सिंह मर्ताेलिया से मिले। इस दौरान उनका कहना था कि नगर निगम ने जिस ए टू जेड कंपनी को डोर-टू-डोर से कूड़ा उठाने की जिम्मेदारी सौंपी है वह लापरवाही कर रही है। उन्होंने डोर-टू-डोर कूड़ा कलेक्शन व्यवस्था को दुरुस्त बनाने की मांग भी उठाई। इस पर नगर आयुक्त ने कार्रवाई का भरोसा दिलाया। नगर आयुक्त से मिलने वालों में पार्षद धीरेंद्र सिंह रावत, राजेंद्र अग्रवाल, नरेंद्रजीत सिंह रोडू, मनोज जोशी, राजेंद्र जीना, रवि जोशी, गुरफान, हेमंत शर्मा, मधुकर श्रोत्रिय, मुकेश बिष्ट, मुन्नी कश्यप, नीमा भट्ट, मनोज गुप्ता,चंद्रशेखर कांडपाल, अमित बिष्ट, नीरज बगडवाल, शाकिर, तौफिक, जिहान परवेज समेत तमाम पार्षद शामिल थे।

बद्रीपुरा वार्ड-11 में बीते दिन स्थानीय पार्षद व कूड़ा उठाने वाली कंपनी के कर्मचारी के बीच विवाद हो गया था। इस दौरान दोनों के बीच पहले बहस हुई और मामला गरमा गया। इसके विरोध में ए टू जेड कंपनी के कर्मचारियों ने बुधवार को हड़ताल कर दी। उन्होंने वार्डों से सुबह की पाली में कूड़ा नहीं उठाया। वहीं इसका पता चलने पर तमाम वार्डों के पार्षद नगर निगम पहुंचे और उन्होंने भीषण गर्मी के मद्देनजर वार्डों से तत्काल कूड़ा उठाने को लेकर नगर निगम अफसरों से मुलाकात की। इस बीच नगर आयुक्त चंद्र सिंह मर्ताेलिया व नगर स्वास्थ्य अधिकारी मनोज कांडपाल तथा पार्षदों की मौजूदगी में कंपनी कर्मियों के साथ वार्ता हुई। दोनों पक्षों में समझौता होने के बाद निजी कंपनी कर्मचारी कूड़ा उठाने को राजी हो गये। इधर नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. कांडपाल ने बताया कि बीते दिन बद्रीपुरा वार्ड के पार्षद व ए टू जेड कंपनी के कर्मचारी का विवाद हो गया था। इस विवाद को सुलझा लिया गया है।