Home अपना उत्तराखंड गुलदार ने महिला को बनाया अपना निवाला…

गुलदार ने महिला को बनाया अपना निवाला…

928
SHARE

जंगल में इंसानों के दखल के हमेशा बुरे परिणाम ही होते हैं। उत्तराखंड में शहर-कस्बे जंगलों के भीतर तक फैल गए हैं, जिससे इंसानों और जंगली जानवरों के बीच मुठभेड़ के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। ताजा मामला रायवाला का है, जहां जंगल में घास काटने गई महिला को गुलदार ने अपना निवाला बना लिया। वन विभाग ने महिला की लाश जंगल से बरामद की, जिसे गुलदार ने आधा खा लिया था। घटना राजाजी टाइगर रिजर्व से सटे मोतीचूर गांव की है, जहां 46 साल की देवकी देवी घास लेने के लिए जंगल गई हुई थी। महिला नदी के किनारे तटबंध के पास घास काट रही थी, कि तभी घात लगाए बैठे गुलदार ने उस पर हमला कर दिया। दोपहर तक महिला घर नहीं लौटी तो परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की। परिजनों ने वनकर्मियों को भी महिला के लापता होने की सूचना दी। जब क्षेत्र में कॉम्बिंग की गई तो महिला का अधखाया शव बरामद हुआ। मौके पर महिला को घसीट कर जंगल की तरफ झाड़ियों में ले जाने के निशान भी मिले।

रायवाला इलाके में एक बार फिर नरभक्षी गुलदार के सक्रिय हो जाने से लोग बेहद डरे हुए हैं। इस साल गुलदार के हमले की ये दूसरी घटना है, जबकि पिछले छह साल में इस क्षेत्र के 23 लोगों को गुलदार अपना शिकार बना चुका है। रेंज अधिकारी शैलेंद्र नेगी के मुताबिक गुलदार ने महिला पर हमला किया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। ग्रामीणों ने कहा कि जंगल से सटे गांवों में पिछले छह साल से लोग गुलदार के आतंक तले जी रहे हैं। अब तक गुलदार के हमले में 23 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं, लेकिन वन विभाग ने नरभक्षी गुलदार को पकड़ने के लिए अब तक कोई कदम नहीं उठाया। डरे-सहमे लोग घरों से बाहर निकलने से डरने लगे हैं। लोगों ने वन विभाग से आदमखोर गुलदार को पकड़ने के साथ ही प्रभावितों को मुआवजा देने की मांग की।