Home उत्तराखंड एक बार फिर बर्फ से ढ़के उत्तराखण्ड के पहाड़।

एक बार फिर बर्फ से ढ़के उत्तराखण्ड के पहाड़।

1040
SHARE

उत्तराखंड के पहाड़ो ने एक बार फिर बर्फ की सफेद चादर ओढ़ ली है, सोमवार देर शाम से शुरु हुई बारिश मंगलवार रात भी जारी रही लगातार हो रही बारिश ने राजधानी देहरादून समेत पूरे प्रदेश में लोगों की मुसीबत बढ़ा दी। पहाड़ी इलाकों में जमकर बर्फबारी हुई है इस कारण कई जगह रास्ते बंद हो गए हैं। वहीं कई जिलों में स्कूलों में आज छुट्टी घोषित की गई है। उत्तरकाशी जिले में गंगोत्री हाईवे और चमोली जिले में जोशीमठ-औली व जोशीमठ-तपोवन-मलारी मार्ग सहित कई सड़कें बाधित हो गई हैं। चमोली जिले में बदरीनाथ, हेमकुंड साहिब, फूलों की घाटी, नंदा घुंघटी, रुद्रनाथ, गौरसों बुग्याल, औली के साथ ही अन्य ऊंचाई वाले स्थानों में जमकर बर्फबारी हुई। बदरीनाथ धाम में आधा फीट और हेमकुंड साहिब में डेढ़ फीट तक ताजी बर्फ जम गई है। ताजा बर्फबारी के कारण गंगोत्री हाईवे पर सुक्की टॉप से आगे वाहनों की आवाजाही प्रभावित हो गई है। बीआरओ की टीम लगातार बर्फ हटाने में जुटी है।

पर्यटन नगरी धनोल्टी सहित सुरकंडा देवी मंदिर, सेम-मुखेम, पीड़ी, गंगी और पिंस्वाड़ आदि सभी ऊंचाई वाले इलाकों जमकर बर्फबारी हुई। मुनस्यारी, धारचूला और बागेश्वर की चोटियों पर एक बार फिर जमकर बर्फबारी हुई है। मुनस्यारी की चोटियों पंचाचूली, हंसलिंग, राजरंभा, नाग्नीधूरा, खलियाटॉप, छिपलाकेदार, मिलम, नामिक में बर्फबारी हुई। मुनस्यारी के आसपास के इलाकों कलामुनि, बेटुलीधार, नई बस्ती, बलांति में भी काफी बर्फ गिरी है।बर्फबारी से थल-मुनस्यारी सड़क फिर बंद हो गई। बलाती, बेटुलीधार में कई वाहन फंसे हुए हैं। पिथौरागढ़ जिले के अधिकतर इलाकों में कल रातभर बारिश होती रही। सरोवर नगरी नैनीताल में भी कल दिन व रातभर हुई बारिश से ठंड बढ़ गई है। मौसम विभाग की चेतावनी के  मद्देनजर नैनीताल डीएम सविन बंसल ने पहली से लेकर 12वीं तक के सभी स्कूलों और आंगनबाड़ी केंद्रों में आज छुट्टी घोषित की है।