Home अपना उत्तराखंड CM ने किया MIS पोर्टल सचेत का शुभारंभ, कहा- छात्रों को भी...

CM ने किया MIS पोर्टल सचेत का शुभारंभ, कहा- छात्रों को भी दिया जाए आपदा प्रबंधन का प्रशिक्षण

844
SHARE
उत्तराखंड राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के कार्यों की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने एसडीआरएफ को निर्देश दिए कि राज्य में प्राकृतिक आपदाओं और सड़क दुर्घटनाओं के दौरान नेहरू पर्वतारोहण संस्थान से समन्वय करके वहां के प्रशिक्षार्थियों का भी सहयोग लिया जाए.
वहीं मुख्यमंत्री ने औचक मॉक ड्रिल करवाने के भी निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि स्कूल व कॉलेज के बच्चों को आपदा प्रबन्ध के प्रशिक्षण से जोड़ा जाए. इससे किसी भी तरह की आपदा से निपटने के लिए छात्रों की मदद भी ली जा सकती है.
इस दौरान सीएम को अधिकारियों ने बताया कि IIT रुड़की के जरिए राज्यभर में भूकंप की पूर्व चेतावनी तंत्र को सुदृढ़ करने के लिए 184 में से 155 सेंसर भी लगाये गए हैं. वहीं भूकंप की चेतावनी के लिए प्रदेश में 49 साइरन लगाये गए हैं. वहीं भारत मौसम विज्ञान विभाग ने राज्यभर में 176 में से 139 मिट्रयॉलॉजिकल इक्विपमेंट भी लगाए हैं.

बैठक में मुख्यमंत्री ने इन्हें किया सम्मानित
  • सीएम ने आपदा प्रबंधन विभाग के तहत आपदा प्रबंधन खोज-बचाव दल में सराहनीय कार्यों के लिए चमोली में तैनात दर्शन सिंह को सम्मानित किया. दरअसल, दर्शन सिंह ने 13 अगस्त 2018 को कोटेश्वर मंदिर रुद्रप्रयाग में अलकनन्दा नदी के तट पर ड्यूटी के दौरान नदी में बहती लड़कियों को चुनौतियों की बीच बचाया था.
  • अल्मोड़ा में युवा कल्याण व प्रांतीय रक्षक दल विभाग में आउटसोर्स से तैनात भुवन चन्द्र कांडपाल को आपदा व वाहन दुर्घटना के समय खोज और बचाव कार्यों के लिए सम्मानित किया.
  • दून की जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी दीपशिखा रावत को भी सम्मानित किया गया.