Home उत्तराखंड चीन में रहा एक परिवार पहुंचा दून, तो स्वास्थ्य विभाग में मच...

चीन में रहा एक परिवार पहुंचा दून, तो स्वास्थ्य विभाग में मच गई अफरा-तफरी।

722
SHARE

चीन में फैले कोरोनो वायरस अब तक कई लोगों की जान ले चुका है। इस वायरस ने चीन ही नहीं बल्कि अन्य देशों की नींद भी हराम कर रखी है। भारत सरकार भी कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट जारी कर चुकी है।जिसे देखते हुए उत्तराखण्ड सरकार ने भी सीमापवर्ती जिलों में मेडिकल टीमें भेज दी हैं, और डॉक्टरों की छुट्टियां रद्द कर दी हैं।
इसी बीच आज स्वास्थ्य विभाग में उस वक्त अफरा-तफरी मच गई जब चीन से लौटे एक दंपती की देहरादून पहुंचने की खबर मिली। यह परिवार दो महीने तक चीन में रहा था। जिसके बाद भारत लौटने पर दिल्ली एयरपोर्ट में उनकी स्क्रीनिंग की गई। यहां से वह जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर पहुंचा। चीन से लौटे एक दंपती को उनके बच्चे के साथ देहरादून के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उनका सैंपल लिया गया और उन्हें घर भेज दिया गया। चीन से आए इस परिवार के अस्पताल में भर्ती होने की खबर कुछ देर बाद ही सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। जिस पर सीएमओ डॉ. मीनाक्षी जोशी और जिला वेक्टर जनित रोग नियत्रंण अधिकारी सुभाष जोशी ने आनन-फानन में प्रेस कांफ्रेंस बुलाई।
प्रेस कांफ्रेंस में उन्होंने कहा कि भारत में अभी कोई भी व्यक्ति कोरोना वायरस से ग्रसित नहीं है। न ही वायरस से संक्रमित कोई व्यक्ति देहरादून के किसी अस्पताल में भर्ती है। उन्होंने बताया कि देहरादून जिले के सभी निजी और सरकारी अस्पतालों को आइसोलेशन वार्ड बनाने के निर्देश दिए गए हैं।
केेंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के निर्देश पर कोरोना वायरस के अलर्ट के मद्देनजर राजकीय दून मेडिकल अस्पताल प्रशासन ने विशेष परिस्थितियों को छोड़कर सभी डॉक्टरों, पैरा मेडिकल और कर्मचारियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं। दून अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. केके टम्टा ने अस्पताल के डॉक्टरों के साथ बैठक कर इससे निपटने के लिए सुविधाओं और तैयारियों का जायजा लिया।