Home उत्तराखंड रक्तदान महादान, नर सेवा नारायण सेवा, सीआईएमएस एंड आर कॉलेज में रक्तदान...

रक्तदान महादान, नर सेवा नारायण सेवा, सीआईएमएस एंड आर कॉलेज में रक्तदान शिविर का आयोजन….

86
SHARE

बुधवार को सीआईएमएस एंड आर कॉलेज कुंआवाला देहरादून में सीआईएमएस एंड यूआईएचएमटी ग्रुप ऑफ कॉलेज देहरादून, देवभूमि विकास संस्थान एवं वीरभूमि फाउंडेशन तथा दून मेडिकल कॉलेज, चिकित्सालय देहरादून के संयुक्त तत्वाधान में 1 दिवसीय रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। रक्तदान शिविर में संस्थान के चेयरमैन एडवोकेट ललित मोहन जोशी सहित कुल 100 से अधिक लोगों ने रक्तदान किया।

रक्तदान शिविर में प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत व प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए। कार्यक्रम में सर्वप्रथम सीआईएमएस एंड यूआईएचएमटी ग्रुप ऑफ कॉलेज देहरादून के चेयरमैन एडवोकेट ललित मोहन जोशी ने कॉलेज में सभी अतिथियों का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि वह अपने संस्थान में आर्थिक रूप से कमजोर बच्चों को निशुल्क उच्च शिक्षा देने के साथ ही विगत 15 वर्षों से नशे के खिलाफ भी जन-जागरूकता अभियान चला रहे हैं। आज प्रदेश में डेंगू के प्रकोप के बीच हमें रक्तदान करने का अवसर मिला है, और हमारे छात्र-छात्राएं इसमें बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि उनका संस्थान आने वाले समय में भी किसी भी सामाजिक जिम्मेदारी को निभाने के लिए हमेशा तत्पर रहेगा।

छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने सभी छात्र-छात्राओं को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि रक्तदान के लिए आपने बहुत पवित्र दिन चुना है। उन्होंने कहा कि कोरोनाकाल में भी रक्त की कमी महसूस हुई थी, उस वक्त लोग रक्तदान से घबरा रहे थे। लेकिन हमने पहल की और उसके बाद सकारात्मक परिणाम सामने आए। आज देहरादून सहित प्रदेश के कई जनपदों में डेंगू फैला हुआ है, डेंगू में लोगों को खून की जरूरत महसूस हो रही है। इसलिए हम सबको रक्तदान के लिए आगे आना होगा। हम सबके प्रयास से ही आज उत्तराखण्ड़ और को भी रक्त देने वाला राज्य बन गया है। उन्होंने कहा हालांकि डेंगू उतनी बड़ी चुनौती नहीं है, लेकिन हमें चुनौती को स्वीकार करना चाहिए। युवा वही है जो चुनौतियों को स्वीकार करे और हमारा युवा इसके लिए तत्पर है। उन्होंने संस्थान के चेयरमैन एडवोकेट ललित मोहन जोशी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि कम समय में सूचित करने के बाद भी आपने रक्तदान शिविर का आयोजन किया जिसके लिए आप बधाई के पात्र हैं।

प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि इस साल पूरे देश में 3 लाख से अधिक डेंगू के मरीज सामने आए हैं, हमारे प्रदेश में डेंगू के 941 मरीज दर्ज किए गए हैं, जिनमें से अब 193 सक्रिय मरीज हैं जबकि बाकी लोग स्वस्थ हो चुके हैं। और अब तक डेंगू से 5 मरीजों की मौत भी हो चुकी है। प्रदेश के सात जिलों में डेंगू का कोई भी मरीज सामने नहीं आया है। डेंगू के सबसे अधिक मरीज देहरादून जनपद में हैं, हमारी सरकार ने पहली बार डेंगू मरीजों के लिए फ्री इलाज की व्यवस्था की है, प्राइवेट अस्पताल में अगर कोई जाता है तो वहां आयुष्मान कार्ड से उसका पूरा इलाज फ्री होगा। उन्होंने रक्तदान शिविर आयोजित करने के लिए सीआईएमएस एंड यूआईएचएमटी ग्रुप ऑफ कॉलेज देहरादून का धन्यवाद अदा किया।

कार्यक्रम में डोईवाला विधायक बृजभूषण गैरोला ने भी छात्र-छात्राओं को अपना आशीर्वाद दिया और रक्तदान के लिए प्रेरित किया। शिविर में स्वास्थ्य महानिदेशक उत्तराखण्ड एवं सीएमओ देहरादून भी उपस्थित रहे। स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ. विनीता शाह ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग की मुखिया होने के नाते  हमें रक्त देने के लिए मैं कॉलेज का धन्यवाद करती हूं। अक्टूबर के पहले पखवाड़े तक डेंगू रह सकता है, डेंगू में मरीज की प्लेटलेट्स कम हो रही हैं, पर्याप्त प्लेटलेट्स की उपलब्धता के लिए हमें बल्ड की आवश्यकता पड़ रही है। जिससे कि आपात स्थिति में हम किसी मरीज की जान बचा सकें।
शिविर में 75 बार रक्त दान कर चुके भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष एवं वीर भूमि फाउंडेशन के अध्यक्ष राजेश रावत सहित स्थानीय भाजपा पदाधिकारी, पार्षद कॉलेज के शिक्षक एवं छात्र-छात्राएं मौजूद रहे।