Home अपना उत्तराखंड अब केदारनाथ में ठहर सकेंगे 3000 से अधिक यात्री, बनेगी टैंट कॉलोनी

अब केदारनाथ में ठहर सकेंगे 3000 से अधिक यात्री, बनेगी टैंट कॉलोनी

982
SHARE

देहरादून: केदारनाथ धाम में इस बार तीन हजार से अधिक यात्री रात्रि विश्राम कर सकेंगे। इसके लिए गढ़वाल मंडल विकास निगम (जीएमवीएन) धाम में 200 अतिरिक्त टेंट लगा रहा है और 15 मई तक टेंट कॉलोनी बनकर तैयार हो जाएगी। निगम की पांच टीम टेंट कॉलोनी तैयार करने में जुटी हैं।

गौरतलब है कि सात मई से चारधाम यात्रा शुरू होने जा रही है। विश्व प्रसिद्ध धाम केदारनाथ के कपाट नौ मई को देश-विदेश के श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खोले जाएंगे। शीतकाल के दौरान हुई भारी बर्फबारी से केदारनाथ धाम में जीएमवीएन के 17 हट्स और 50 से ज्यादा टेंट क्षतिग्रस्त हुए हैं।

इसके अलावा कई हट्स और टेंट अभी भी बर्फ के नीचे दबे हुए हैं। जीएमवीएन के महाप्रबंधक पर्यटन बीएल राणा ने बताया कि बीते वर्ष निगम की ओर से धाम में 2800 यात्रियों के ठहरने की व्यवस्था की गई थी।

मगर, इस बार सौ पीवीसी, 20 कैनवास, 50 एसडीआरएफ व 30 निम (नेहरू पर्वतारोहरण संस्थान) के टेंट निगम यात्रा से पहले ही तैयार कर लेगा। ताकि, अतिरिक्त यात्रियों को भी धाम में किसी तरह की परेशानी न उठानी पड़े। इसके अलावा 50 टेंट रिजर्व में रखे जाएंगे, जिनका उपयोग यात्रियों की आमद बढऩे पर किया जाएगा।

यहां लगेंगे निगम के टेंट

स्थान              –      क्षमता

केदार डोम          –     600

बेस कैंप            –     120

स्वर्गारोहिणी       –      80

लिनचोली          –      30

भीमबली           –      80

एसडीआरएफ      –    100

नई टेंट कॉलोनी   –     2000