Home सेहत वजन घटाने से लेकर हाई ब्लड प्रेशर जैसी बीमारियों तक, जानें कब...

वजन घटाने से लेकर हाई ब्लड प्रेशर जैसी बीमारियों तक, जानें कब कौन सी डाइट लेना होता है फायदेमंद

1028
SHARE

किसी ने कल्‍पना भी नहीं की होगी कि एक दिन आदिमानव के समय की डाइट एक दिन हम सबकी डाइट प्‍लान में शामिल हो जाएगी। यह ऐसी आहार योजना हैं जो आपके लिए बहुत ही स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक है। इन आहार योजनाओं को अपनाते हैं, तो आपकी कई स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याएं आसानी से दूर हो जाएंगी। हर बीमारी से निपटने के लिए सबसे जरूरी है आपका खान-पान, क्‍योंकि कई बीमारियों को खानपान में कुछ बदलाव करके दूर किया जा सकता है। आइए हम आपको कुछ लोकप्रिय डाइटों के बारे में बताते हैं, जिन्‍हें आप अपने अनुसार चुन सकते हैं।

डिमेंशिया के लिए माइंड डाइट

माइंट डाइट यानि कि मेडिटेरियन डीएएसएच इंटरवेशन फॉर न्‍यूरोडिजेनरेटिव डिले। यह डाइट बढ़ती उम्र के साथ भूलने से संबंधित बीमारियों जैसे डिमेंशिया और अल्‍जाइमर के लक्षणों को कम करने में सहायक है। माइंड डाइट में हरी पत्‍तेदार सब्जियां, अनाज, बींस, जैतून का तेल, मख्‍खन, चीज और लाल मांस की बहूत कम मात्रा शामिल है। मांइड डाइट से डिमेंशिया और अल्‍जाइमर जैसी मस्तिष्‍क की बीमारियों के साथ दिल की बीमारियों को भी ठीक किया जा सकता है।

हाई ब्‍लड प्रेशर के लिए डैश डाइट

डैश डाइट हाई ब्‍लड प्रेशर की समस्‍या को दूर करने के लिए अच्‍छा विकल्‍प है। हालांकि डैश डाइट को वजन कम करने में भी मददगार है। इस डाइट में आपको डाइट शुगर, फैट व जंक फूड्स को नियंत्रण में रखना पड़ता है। इस आहार योजना में फल, सब्जियां, नट्स और कम फैट वाले डेयरी उत्‍पाद व मांस-मछली शामिल है। इसके अलावा इस डाइट में कम नमक व कम तेल वाले भोजन का सेवन किया जाता है। डैश डाइट दो प्रकार की होती है- स्‍टैंडर्ड डैश डाइट और लोअर सोडियम डैश डाइट। डैश डाइट के दोनों ही प्रकार सोडियम की मात्रा को कम करने पर निर्धारित हैं जो कि ब्‍लड प्रेशर के साथ हृदय रोग व ऑस्टियोपोरोसिस, कैंसर व डायबिटीज के खतरे को भी कम करने में फायदेमंद है।

वजन घटाने के लिए एटकिंस डाइट

एटकिंस डाइट वजन कम करने के लिए सबसे अच्‍छा विकल्‍प है। इस आहार योजना में कार्बोहाइड्रेट्स की मात्रा को सीमित रखकर परहेज करने की जरूरत होती है। एटकिंस डाइट में आपको अपने खानपान में प्रोटीन और वसा को  लेते हुए वजन कम करना होता है। इस आहार योजना के शुरूआत के चार चरण हैं। इस आहार योजना में आप लाल मांस, सल्‍मन मछली, अंडा पनीर, दूध, दही, नट्स और कम कार्बोहाइड्रेट्स वाली सब्जियां व फल जैसे जामुन को शामिल कर सकते हैं।

द जोन डाइट

इस डाइट से शरीर की सूजन को कम करने में मदद मिलती है। यह एक लो कार्ब डाइट है, जिसे डाक्‍टर बैरी सीयर्स ने तैयार किया है। इस आहार योजना में आपको ऐसे फल जिनमें शुगर की मात्रा ज्‍यादा हो उनसे परहेज करना होगा और प्रोटीन, कार्ब्‍स और फैट थोड़ा मात्रा में शामिल करें। द जोन डाइट में मछली, सब्जियां, जैतून का तेल, नट्स और एवाकाडो शामिल कर सकते हैं। यह सूजन के साथ आपकी कई बीमारियों में फायदेमंद है।