Home उत्तराखंड यू.टी.यू. का 6वां दीक्षांत समारोह 13 मई 2022 को आयोजित होगा…..

यू.टी.यू. का 6वां दीक्षांत समारोह 13 मई 2022 को आयोजित होगा…..

169
SHARE

वीर माधो सिंह भण्डारी उत्तराखण्ड प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय
(यू0टी0यू0) का 6वां दीक्षांत समारोह दिनांक 13 मई, 2022 को पूर्वाह्न 11ः00 बजे से अपराह्न 1ः33 बजे तक विश्वविद्यालय मुख्यालय सुद्धोवाला में आयोजित होगा, जिसका विश्वविद्यालय ने अपनी विद्या परिषद एवं
कार्य परिषद की बैठक में अनुमोदन लेकर अब पूरी तैयारी कर ली है।

दीक्षांत समारोह को आयोजित किये जाने का अनुमोदन
कुलाधिपति महोदय द्वारा भी दे दिया गया है। विश्वविद्यालय के कुलसचिव ई0 आर0पी0 गुप्ता ने अवगत कराया कि
दीक्षांत समारोह के सफल आयोजन हेतु सम्पूर्ण तैयारियां पूर्ण कर ली गयी है और विश्वविद्यालय के सभी अधिकारी व कर्मचारी समारोह के सफल आयोजन हेतु दिन-रात कार्य कर रहे हैं। स्वयं कुलपति डाॅ0 पी0 पी0 ध्यानी भी प्रतिदिन दीक्षांत समारोह के कार्यों की समीक्षा कर रहे हैं।

अवगत करा दें कि कुलपति डाॅ0 ध्यानी ने जब उत्तराखण्ड
प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय का कुलपति के रूप में अतिरिक्त प्रभार ग्रहण किया तो उनकी प्राथमिकताओं में से दीक्षांत समारोह का आयोजन कराना भी सम्मिलित था जो अब साकार हो रहा है। दीक्षांत समारोह आयोजित होने की खबर से उपाधि एवं पदक से अंलकृत होने वाले छात्र-छात्राओं
में खुशी की लहर है, वे पिछले 5 वर्षों से इस शुभ दिन की बड़ी
उत्सुकता से प्रतीक्षा कर रहे थे। कुलपति डाॅ0 ध्यानी ने अवगत कराया कि पिछले 5 वर्षों (वर्ष 2016-17 से 2020-21 तक) के 38,791 स्नातक एवं परास्नातक छात्र-छात्राओं, 66 गोल्ड मैडलिस्ट एवं वर्ष 2017 से 31 मार्च 2022 तक के 308 पीएच0डी0 धारकों को माननीय कुलाधिपति/राज्यपाल महोदय द्वारा दीक्षांत हेतु दीक्षांत समारोह में अनुमति दी जायेगी। इस अवसर पर लगभग 100 चयनित छात्र-छात्राओं को माननीय कुलाधिपति/राज्यपाल महोदय द्वारा उपाधियां प्रदान की जायेंगी और गोल्ड मेडलों से छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया जायेगा। दीक्षांत समारोह में उपाधि एवं गोल्ड मैडल प्राप्त करने वाले चयनित छात्र-छात्राओं के अलावा विशिष्ट अतिथि सुबोध उनियाल, माननीय तकनीकी शिक्षा मंत्री अति विशिष्ट अतिथि पुष्कर सिंह धामी, माननीय मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड सचिव तकनीकी शिक्षा, विश्वविद्यालयों के
कुलपतिगण एवं विश्वविद्यालय से सम्बद्ध तकनीकी व व्यावसायिक संस्थानों के अध्यक्ष/निदेशकों को विश्वविद्यालय द्वारा आमंत्रित किया गया है।