Home उत्तराखंड भावी शिक्षकों की क्षमता विकास के लिए मिलकर काम करेंगे श्री देव...

भावी शिक्षकों की क्षमता विकास के लिए मिलकर काम करेंगे श्री देव सुमन विश्वविद्यालय व एडइंडिया फाउंडेशन….

17
SHARE

श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय और स्टेरलाइट एडइंडिया फाउंडेशन उत्तराखंड में भावी शिक्षकों को तकनीकी रूप से अधिक सक्षम, दक्ष व प्रशिक्षित बनाने के लिए मिलकर काम करेंगे। मंगलवार को श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. पीपी ध्यानी और एडइंडिया फाउंडेशन की प्रोजेक्ट एग्जीक्यूटिव किरन चन्दोला ने इस आशय के एमओयू पर हस्ताक्षर किए।

कुलपति प्रो. पीपी ध्यानी ने कहा कि वर्तमान युग तकनीक व प्रौद्योगिकी का है। शिक्षकों को समय के साथ खुद को अपडेट और अपग्रेड करना होता है। नई शिक्षा नीति में भी इस पर विशेष जोर दिया गया है। उन्होंने उम्मीद जताई कि दोनों संस्थाएं भावी शिक्षकों को बेहतर रूप से प्रशिक्षित कर शिक्षा व्यवस्था सुधारने में अपना व्यापक योगदान देंगीं।

किरन चन्दोला ने कहा कि एड इंडिया फाउंडेशन प्रदेश में यूनेस्को के साथ मिलकर बीएड व डीएलएड छात्रों के लिए डिजिटल टीचर और सोशल इमोशनल लर्निंग के निशुल्क कोर्स करवा रही है। साथ ही नवाचार के माध्यम से समाधान और बेहतर शिक्षा व्यवस्था के लिए मौजूदा व भावी शिक्षकों को प्रशिक्षित कर रही है।