Home उत्तराखंड संस्कार युक्त शिक्षा ही ब्यसनमुक्त समाज का निर्माण करेगी- एडवोकेट ललित जोशी…

संस्कार युक्त शिक्षा ही ब्यसनमुक्त समाज का निर्माण करेगी- एडवोकेट ललित जोशी…

68
SHARE

राजकीय इण्टर कॉलेज डोभालवाला देहरादून में विकासखण्ड रायपुर की खण्ड स्तरीय विज्ञान महोत्सव 2023 का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में सीआईएमएस एंड यूआईएचएमटी ग्रुप ऑफ कॉलेज के चेयरमैन एडवोकेट ललित मोहन जोशी मुख्य अतिथि के रूप में सम्मिलित हुए। इस दौरान जिसमें विभिन्न विद्यालयों के छात्र-छात्राओं द्वारा विज्ञान ड्रामा (नाटक) पर्यावरण, परिवहन, स्वास्थ्य आदि विषयों पर अनेक क्रियात्मक मॉडल प्रस्तुत किए।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए एडवोकेट ललित जोशी ने वैज्ञानिक क्रियाकलापों में प्रतिभाग करने वाले छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि अभाव में रहने वाला बच्चा ही एक दिन इतिहास बनाता है। हिन्दी मीडियम स्कूलों में पढ़ने वाले मध्यम परिवार के बच्चों के अंदर बहुत सारी वैज्ञानिक चेतना भरी हुई है, बस उन्हें सही मार्गदर्शन एवं उनके मनोबल बढ़ाने की जरूरत है। सभी गुरूओं और माता-पिता द्बारा बच्चों को संस्कारों के साथ शिक्षा प्रदान की जाए ताकि हमारे देश की युवा पीढ़ी व्यस्नमुक्त रहकर अपने पथ पर आगे बढ़ सके। बच्चों की रूचि पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है, ताकि वो अपनी रूचि के अनुरूप समाज में अपना प्रतिनिधित्व कर सकें।

एडवोकेट ललित जोशी ने कहा कि वह विकासखण्ड रायपुर के अंतर्गत आने वाले इण्टर कॉलेज के बच्चों को भी अपने संस्थान में चलाई जा रही सुपर-300 मिशन एजुकेशन स्कीम से लाभानंवित करेंगे। उन्होंने घोषणा करते हुए कहा कि वह अपने संस्थान सीआईएमएस एंड यूआईएचएमटी ग्रुप ऑफ कॉलेज देहरादून में राजकीय इण्टर कॉलेज डोभालवाला के 10 तथा विकासखण्ड रायपुर के अंतर्गत आने वाले इण्टर कॉलेजों के 30 आर्थिक रूप से कमजोर मेधावी छात्र-छात्राओं को नि:शुल्क उच्च शिक्षा प्रदान करेंगे। बता दें कि सीआईएमएस एंड यूआईएचएमटी ग्रुप ऑफ कॉलेज देहरादून द्वारा प्रत्येक वर्ष आर्थिक रूप से कमजोर 300 मेधावी छात्र-छात्राओं को नि:शुल्क उच्च शिक्षा प्रदान की जा रही है, यहां 30 से अधिक कोर्सों में छात्र-छात्राएं नि:शुल्क उच्च शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं।

कार्यक्रम में एडवोकेट ललित जोशी द्वारा छात्र-छात्राओं को नशामुक्ति की भी शपथ दिलाई, और सजग इंडिया के तहत प्रदेशभर में विगत 15 सालों से नशे के खिलाफ चलाए जा रहे जन-जागरूकता अभियान के बारे में भी अवगत कराया।

आपको बता दें कि एडवोकेट ललित जोशी प्रदेश के युवाओं में नशे के खिलाफ जन-जागरूकता हेतु विगत 15 वर्षों से युवाओं के बीच पहुंचकर उनसे सीधा संवाद करते हैं। अब तक वह प्रदेश के 1500 से अधिक स्कूलों में जाकर 7 लाख से अधिक छात्र-छात्राओं को सजग इण्डिया के माध्यम से नशे के खिलाफ जागरूक करने का सतत कार्य कर चुके हैं, तथा उनका यह प्रयास निरन्तर जारी है।

सजग इण्डिया में नशे के खिलाफ इस जन जागरूकता अभियान को अब तक 5 करोड़ से अधिक लोग देख चुके हैं तथा 2.34 लाख इस अभियान में सजग इंडिया परिवार के सदस्य हैं। ललित मोहन जोशी इस अभियान को अब दूसरे प्रदेशों में भी ले जाना चाहते हैं। उनका मानना है कि नशा पूरे भारत की युवा पीढ़ी को बर्बाद करने का काम कर रहा है। ऐसे में जनजागरूकता के माध्यम से ही युवाओं को नशे की गिरफ्त में आने से बचाया जा सकेगा।