Home उत्तराखंड कूर्मांचल गौरव सम्मान 2024 से सम्मानित हुए ललित जोशी..

कूर्मांचल गौरव सम्मान 2024 से सम्मानित हुए ललित जोशी..

46
SHARE

कूर्मांचल सांस्कृतिक एवं कल्याण परिषद केंद्र द्वारा जीएमएस रोड़ स्थित कूर्मांचल भवन में रविवार 17 मार्च 2024 को होली मिलन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि उत्तराखंड सरकार के कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी, कैंट विधायक सविता कपूर, सीआईएमएस एंड यूआईएचएमटी ग्रुप ऑफ कॉलेज देहरादून के चेयरमैन ललित मोहन जोशी, प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की धर्मपत्नी समाजसेवी गीता धामी, राज्य मंत्री कैलाश पंत द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया। इस दौरान स्वामी वीर वीणा महाराज म्यूजिक एंड डांस अकादमी द्वारा गणेश और सरस्वती वंदना प्रस्तुत की गई। इस मौके पर परिषद की वार्षिक पत्रिका घुघुति तथा कैलेंडर का विमोचन भी हुआ।

कार्यक्रम में सीआईएमएस एंड यूआईएचएमटी ग्रुप ऑफ़ कॉलेज के चेयरमैन ललित मोहन जोशी को नशा उन्मूलन के क्षेत्र में अतुलनीय कार्य एवं प्रतिवर्ष 300 प्रदेश के आर्थिक रूप से कमजोर योग्य छात्र छात्राओं को निशुल्क उच्च शिक्षा प्रदान करने हेतु “कूर्मांचल गौरव सम्मान 2024” से सम्मानित किया गया।

होली कार्यक्रम में कांडली शाखा के बच्चों द्वारा बहुत सुंदर नृत्य की प्रस्तुति “छोरी चंद्रा ज्यादा ना शर्मा और” कुमाऊं मित्र मंडल रायपुर के बच्चों द्वारा मैशअप डांस प्रस्तुत किया गया। उसके बाद नत्थनपुर शाखा की महिलाओं द्वारा “मृगनयनी को यार नवल रसिया” बैठक होली गाई गई। धर्मपुर शाखा द्वारा “मोहन गिरधारी” और प्रेम नगर शाखा द्वारा ” होली खेले पशुपतिनाथ” होली गाई गई। लोक गायक हरदा ननोई के “ईथा जानू लेन लेंन उथा जानू लैन लेन”…… गीत का विमोचन भी हुआ साथ ही माजरा शाखा द्वारा “धीरे-धीरे मार कान्हा पिचकारी” और गढ़ी शाखा द्वारा “होली खेल रहे राजा दशरथ के वीर” होली गीतों की प्रस्तुति हुई।

इंदिरा नगर शाखा द्वारा “तू करले सोलह सिंगार राधिका तेरे अंगना होली आई रही” तथा हाथीबढ़कला शाखा द्वारा “सिलीगड़ी का पाला चाला” झोड़ा की प्रस्तुति की गई।

कार्यक्रम में सुप्रसिद्ध लोक गायक गिरीश सनवाल पहाड़ी, गणेश कांडपाल और हरीश मेहरा हरदा ननोई के गीतों पर उपस्थित जनसमूह जमकर थिरका। कार्यक्रम का संचालन सांस्कृतिक सचिव बबीता साह लोहानी ने किया।

कार्यक्रम में आर. एस. परिहार, कमल रजवार, गोविंद पांडेय, गम्भीरसिंह रावत, हरि सिंह बिष्ट, प्रेमा तिवारी, चंद्रशेखर पंत, उत्तम अधिकारी, हरीश सवाल, सुनीता भंडारी, बी. आर. एस. बिरोदिया, परमानंद जोशी, नवीन तिवारी, मन्जू देउपा, शर्मिष्ठा कफलिया, हंसा धामी, भारती पांडेय, प्रेमलता बिष्ट, दामोधर कांडपाल, सुरेन्द्र सिंह बिष्ट, ललित मनराल, वन्दना बिष्ट, मनमोहन, सन्तोष जोशी सहित 500 से अधिक लोग उपस्थित रहे।