Home उत्तराखंड एक्शन में सीएम धामी महिला डॉ. के साथ दुर्व्यवहार व तबादला मामले...

एक्शन में सीएम धामी महिला डॉ. के साथ दुर्व्यवहार व तबादला मामले पर दिए जांच के निर्देश…

64
SHARE

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने समाचार पत्रों और सोशल मीडिया में दून मेडिकल कॉलेज चिकित्सालय की वरिष्ठ महिला चिकित्सक डॉ. निधि उनियाल के अल्मोड़ा मेडिकल कालेज संबद्धीकरण एवं उनके साथ हुए दुर्व्यवहार की खबरों का संज्ञान लेते हुए तत्काल प्रभाव से इस संबद्धीकरण आदेश को निरस्त करने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इस मामले की उच्च स्तरीय जांच के लिए मुख्य सचिव डॉ एस.एस. संधू को निर्देश भी दिए हैं। मुख्यमंत्री धामी के निर्देश पर मुख्य सचिव डॉ संधू ने अपर मुख्य सचिव मनीषा पवार को उपरोक्त प्रकरण की तथ्यात्मक जांच ( fact finding enquiry) करते हुए अपनी रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं।

ये है प्रकरण –

दून मेडिकल कॉलेज की एक वरिष्ठ फिजीशियन ने स्वास्थ्य सचिव की पत्नी पर अभद्रता का आरोप लगाकर इस्तीफा दे दिया था। डॉक्टर का आरोप है कि उनके साथ ना सिर्फ अभद्रता की गई, बल्कि अल्मोड़ा के लिए तबादला आदेश भी जारी कर दिया गया। हालांकि स्वास्थ्य सचिव ने सभी आरोपों को खारिज किया है।

दून मेडिकल कॉलेज की एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. निधि उनियाल ने मुख्यमंत्री, स्वास्थ्य मंत्री, स्वास्थ्य सचिव, चिकित्सा शिक्षा निदेशक एवं मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य को भेजे पत्र में लिखा है कि उन्हें स्वास्थ्य सचिव के घर पर उनकी बीमार पत्नी को देखने के लिए भेजा गया था। सचिव के सम्मान में वह ओपीडी और मरीजों को छोड़कर दो स्टाफ के साथ सचिव के घर पहुंचीं। वहां सचिव की पत्नी की मेडिकल जांच की। इस दौरान बीपी इंस्ट्रूमेंट कार में भूलने से उसे लाने में देरी हुई तो सचिव की पत्नी ने अभद्र व्यवहार किया। उनके प्रोफेशन और आचरण के लिए अपमानजनक शब्दों का प्रयोग किया। उन्होंने इस पर आपत्ति जताई और वापस लौट आईं। डॉ. निधि ने चिट्ठी में लिखा है कि मुझे आईएएस डॉ. पांडे की पत्नी से माफी मांगने को कहा गया। मेरी कोई गलती नहीं है, इसलिए मैंने इससे इनकार कर दिया। सचिव स्वास्थ्य के आदेश पर इस उत्पीड़न को देख एसोसिएट प्रोफेसर के पद से इस्तीफा देती हूं कि सचिव के खिलाफ कार्रवाई शुरू की जाए।