Home उत्तराखंड कौशल विकास का प्रशिक्षण देने वाली संस्थाओं को प्रशिक्षण के साथ नौकरी...

कौशल विकास का प्रशिक्षण देने वाली संस्थाओं को प्रशिक्षण के साथ नौकरी की गारंटी देनी होगी- सौरभ बहुगुणा कौशल विकास मंत्री…

38
SHARE

कौशल विकास एवं सेवायोजन मंत्री सौरभ बहुगुणा की अध्यक्षता में कौशल विकास एवं सेवायोजन विभाग की कार्य नीतियों और कार्य योजनाओँ एवं आगामी वर्ष के रोड मैप को लेकर गहन चर्चा की गयी, कौशल विकास मंत्री सौरभ बहुगुणा ने कहा कि प्रदेश में कौशल विकास का प्रशिक्षण देने वाली संस्थाओं को अब 50 प्रतिशत प्रशिक्षित युवाओं को नौकरी की गारंटी देनी होगी, तभी सरकार उनसे एमओयू करेगी। उन्होंने कहा कि
वर्ष 2025 में जब हमारा राज्य 25 वर्ष का होगा तब विभाग को अधिक से अधिक युवाओं को आई.टी.आई एवं लघु अविध के प्रशिक्षण कोर्सों के माध्यम से शिक्षित कर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना है।

कौशल विकास मंत्री के मुताबिक इस साल 5 हजार से अधिक युवाओं को स्किल डेवलेपमेंट की ट्रेनिंग दी जानी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कौशल विकास का प्रशिक्षण देने वाली विभिन्न संस्थाएं 80 से 90 क्षेत्रों में 500 से अधिक कोर्स का प्रशिक्षण देती हैं, कौशल विकास के प्रशिक्षण के बाद संस्थाएं युवाओं को प्रमाणपत्र उपलब्ध कराती हैं, लेकिन उनकी ओर से संबंधित युवाओं को नौकरी की गारंटी नहीं दी जाती। संस्थाओं के साथ इस शर्त को जोड़ा जा रहा है कि उन्हें प्रशिक्षण लेने वाले आधे युवाओं को नौकरी की गारंटी देनी होगी।

कौशल विकास मंत्री ने कहा कि जिस आईटीआई में बच्चे कम हैं या वह बंद हैं, उसे सैटेलाइट सेंटर के रूप में तीन दिन ऑनलाइन और तीन दिन ऑफलाइन माध्यम से चलाया जाएगा। प्रदेश में 154 में से 55 आईटीआई चल रहे हैं। चीनी मिलों के चीफ इंजीनियर अब हर सप्ताह आईटीआई में जाकर छात्र-छात्राओं को लेक्चर देंगे। जबकि आईटीआई के छात्र चीनी मिलों में अप्रैंटिस करेंगे।

प्रदेश के आईटीआई के टॉप 25 बच्चों को सरकार राज्यों का भ्रमण कराएगी। वहीं मंत्री ने निर्देश दिए कि 2025 तक कितने लोगों को रोजगार मिल सके इस पर फोकस करें।