Home अपना उत्तराखंड देहरादून प्राणियों के प्रति दया, करूणा एवं परोपकार की भावना होना ही राष्ट्रपिता...

प्राणियों के प्रति दया, करूणा एवं परोपकार की भावना होना ही राष्ट्रपिता को सच्ची श्रद्धांजलि- एडवोकेट ललित जोशी…

71
SHARE

सीआईएमएस एंड यूआईएचएमटी ग्रुप ऑफ कॉलेज देहरादून में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती धूमधाम से मनाई गई, इस अवसर पर कॉलेज के छात्र-छात्राओं द्वारा स्वच्छता एवं वृक्षारोपण कार्यक्रम आयोजित किए गए। संस्थान के चेयरमैन एडवोकेट ललित मोहन जोशी ने छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि गांधी जी ने सत्य एवं अहिंसा के मार्ग पर चलने के लिए सबको प्रेरित किया। भारत को आजादी दिलाने के लिए उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्होंने कहा कि कहा कि हमें अपने आचरण में अहिंसा का भाव जागृत करने के साथ ही मानवता के प्रति करूणा का भाव पैदा करना होगा। यही हमारी उनके प्रति सच्ची श्रद्वांजलि होगी।

एडवोकेट ललित मोहन जोशी ने बताया कि देश भर में 17 सितंबर से 2 अक्टूबर तक चलाए जा रहे स्वच्छता ही सेवा पखवाड़ा के दौरान उनके संस्थान द्वारा भी विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए सितंबर में मेरी माटी मेरा देश कार्यक्रम के तहत घर-घर से मिट्टी एवं चावल एकत्रित किए गए। और छात्र-छात्राओं को “ प्रधानमंत्री के पांच प्रण- विकसित भारत के निर्माण का विराट लक्ष्य हो, गुलामी की हर सोच से मुक्ति हो, भारत की विरासत पर गर्व की भावना हो, देश की एकता और एकजुटता को निरंतर सशक्त करना हो और अपने कर्तव्यों को सर्वोपरि रखना हो की शपथ दिलाई। कार्यक्रम के तहत जो गांव से मिट्टी और चावल इकट्ठे करके लाई गई है उससे कर्तव्य पथ पर एक अमृत वाटिका का निर्माण किया जाएगा।

वहीं आज स्वच्छता ही सेवा कार्यक्रम के तहत सीआईएमएस एंड यूआईएचएमटी ग्रुप ऑफ कॉलेज एवं उत्तराखंड डिफेंस एकेडमी देहरादून के छात्र-छात्राओं द्वारा वृहद स्तर पर स्वच्छता अभियान चलाया जिसके तहत सीआईएमएस कैंपस कुंआवाला से लेकर लक्ष्मण सिद्ध मंदिर हर्रावाला तक साफ – सफाई की गई। इस दौरान छात्र-छात्राओं को स्वच्छता की शपथ भी दिलाई गई। संस्थान के चेयरमैन ने कहा कि हमारे छात्र-छात्राओं द्वारा विगत कुछ समय से हर रविवार को स्वच्छता कार्यक्रम चलाया जाता रहा है, और यह आगे भी अनवरत जारी रहेगा। स्वच्छता कार्यक्रम में लगभग 500 छात्र-छात्राओं ने प्रतिभाग किया। इस दौरान सी आई एम एस कॉलेज के मैनेजिंग डायरेक्टर संजय जोशी, डायरेक्टर रमेश चंद्र जोशी, कैप्टन मोहित बिष्ट आदि मौजूद रहे।