Home उत्तराखंड प्रगति से प्रकृति पथ 2 हजार किलोमीटर साइकिल यात्रा करते हुए देहरादून...

प्रगति से प्रकृति पथ 2 हजार किलोमीटर साइकिल यात्रा करते हुए देहरादून पहुंचे पर्यावरणविद अनिल जोशी, CIMS कॉलेज में हुआ भव्य स्वागत…..

23
SHARE

प्रगति से प्रकृति पथ यात्रा पर साइकिल पर सवार होकर निकले पर्यावरणविद् डॉ. अनिल जोशी बुधवार देहरादून पहुंच चुके हैं। 2 अक्टूबर 2022 से उन्होंने देश की आर्थिक राजधानी मुंबई से अपनी यह यात्रा शुरू की थी जो कि 7 राज्यों से होकर लगभग 2000 किलोमीटर का सफर तय कर आज 9 नवंबर उत्तराखण्ड राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर उत्तराखण्ड की राजधानी देहरादून पहुंची है। देहरादून के सीआईएमएस कॉलेज पहुंचने पर उनका भव्य स्वागत किया गया।

बुधवार सुबह वह देहरादून के सीआईएमएस कॉलेज में पहुंचे जहां उनके स्वागत में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कॉलेज के चेयरमैन एडवोकेट ललित मोहन जोशी ने फूल मालाओं के साथ उनका स्वागत किया, और डॉ. अनिल जोशी के इस साईकिल यात्रा पर प्रकाश डाला। साइकिल यात्रा का मुख्य उद्देश्य लोगों को प्रकृति व पर्यावरण का संरक्षण करने के लिए जागरूक करना है।

इस दौरान पर्यावरणविद् डॉ. अनिल जोशी ने कॉलेज के छात्र-छात्राओं को संबोधित किया और सभी को पर्यावरण एवं जल संरक्षण के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कॉलेज में स्वच्छता, हरियाली व छात्र-छात्राओं के अनुशासन को देखकर बेहद खुशी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि वह देशभर की यात्रा कर से आ रहे हैं, लेकिन यहां की स्वच्छता, हरियाली व छात्र-छात्राओं का अनुशासन दिल को सुकून देने वाला है।

डॉ. अनिल जोशी ने बताया कि समुद्र से पहाड़ तक के इस अभियान में आम जनता को पर्यावरण संरक्षण के लिए संदेश दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि विकास के नाम पर हमने पर्यावरण से बहुत खिलवाड़ कर लिया, उसके परिणाम अब दिखाई देने लगे हैं। मौसम अपने तय समय अनुसार ना तो आ रहा है और ना ही जा रहा है। अब समय प्रगति और प्रकृति को जोड़ने और इससे जुड़ने का है। कहा कि लोगों को अपनी जिम्मेदारी समझना होगी। अब पर्यावरण को बचाने का समय आ गया है, क्योंकि पर्यावरण असंतुलन के कारण ही मौसम में बदलाव हो रहा है।

डॉ. अनिल जोशी सीआईएमएस कॉलेज के चेयरमैन एडवोकेट ललित मोहन जोशी द्वारा 300 निर्धन छात्र-छात्राओं को नि:शुल्क उच्च शिक्षा व नशे के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान की सराहना करते हुए इस मुहिम को हरसंभव मदद देने का ऐलान किया। बता दें कि CIMS&UIHMT ग्रुप ऑफ कॉलेज के 300 छात्र- छात्राओं को निःशुल्क उच्च शिक्षा प्रदान करने का ऐलान किया है। वहीं ग्रुप के चेयरमैन एडवोकेट ललित मोहन जोशी विगत 15 वर्षों से नशे के खिलाफ जन-जागरूकता अभियान चला रहे हैं।