Home अपना उत्तराखंड देहरादून नशा आतंकवाद का दूसरा पर्यायवाची- एडवोकेट ललित मोहन जोशी….

नशा आतंकवाद का दूसरा पर्यायवाची- एडवोकेट ललित मोहन जोशी….

465
SHARE

मानवाधिकार संरक्षण एवं भ्रष्टाचार निवारक समिति एवं सजग इंडिया के संयुक्त तत्वावधान में सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज ऋषिकेश में युवा संवाद कार्यक्रम के जरिए नशे के खिलाफ जन-जागरूकता अभियान चलाया गया। मानवाधिकार संरक्षण एवं भ्रष्टाचार निवारक समिति के अध्यक्ष एडवोकेट ललित मोहन जोशी आज ऋषिकेश स्थित सरस्वती विद्या मन्दिर इंटर कॉलेज पहुँचे जहां उन्होंने “नशे को ना, जिंदगी को हां” का संदेश देते हुए छात्र-छात्राओं से नशे से दूर रहने की अपील की और बताया कि आतंकवाद को सबसे ज़्यादा फंडिंग नशे के कारोबार से होती है। जाने अनजाने में नशा करने वाले युवा आतंकवाद को बढ़ावा देते है। अतः हम सब को नशा मुक्त समाज के निर्माण का संकल्प लेना चाहिये।

बता दें कि एडवोकेट ललित मोहन जोशी बीते 15 वर्षों से मानवाधिकार संरक्षण एवं भ्रष्टाचार निवारक समिति उत्तराखंड के सहयोग से सजग इंडिया के माध्यम से नशे के खिलाफ जन-जागरूकता अभियान चला रहे हैं। वह प्रदेशभर के स्कूलों में पहुँचकर युवाओं से सीधे संवाद करते रहे हैं। इसी कड़ी में आज उन्होंने ऋषिकेश में 1200 से अधिक युवाओं से सीधा संवाद स्थापित किया और उन्हें नशे के दुष्प्रभावों से अवगत कराते हुए नशे से दूर रहने की अपील की।