Home उत्तराखंड आर्थिक रूप से कमजोर 60 छात्र-छात्राओं को डोर फाउंडेशन ने वितरित किए...

आर्थिक रूप से कमजोर 60 छात्र-छात्राओं को डोर फाउंडेशन ने वितरित किए लैपटॉप….

52
SHARE

गुरूवार को डोर फाउंडेशन ने देहरादून में एक कार्यक्रम के दौरान आर्थिक रूप से कमजोर 60 मेधावी छात्र-छात्राओं को लैपटॉप और कम्प्यूटर प्रदान किए। कार्यक्रम में उद्योग जगत के दिग्गजों के साथ विभिन्न उच्च शिक्षण संस्थानों के अध्यक्ष व निदेशक भी उपस्थित रहे। इस अवसर पर फाउंडेशन की संस्थापक संयोगिता केडिया ने कहा कि ये लैपटॉप और डेस्कटॉप हमारे छात्रों को शिक्षण सामग्री तक पहुंचने, ऑनलाइन कक्षाओं में भाग लेने और अपने डिजिटल कौशल को तेज करने में मदद करेंगे।

डोर फाउंडेशन के बारे में जानकारी देते हुए संयोगिता केडिया ने कहा कि डोर, उत्तराखंड में आर्थिक रूप से वंचित छात्रों को मुफ्त में उच्च शिक्षा प्राप्त करने में मदद करता है। हम  इन बच्चों को कुशल बनाने और उनका सर्वांगीण विकास सुनिश्चित करने के लिए उनके साथ काम करते हैं। कार्यशालाओं और प्लेसमेंट सहायता के माध्यम से छात्रों को करियर के लिए तैयार करने में भी मदद करते हैं। उन्होंने कहा कि मेधावी छात्रों को 60 लैपटॉप और कम्प्यूटर का वितरण सभी के लिए समान शैक्षिक अवसर प्रदान करने के प्रति फाउंडेशन की अटूट प्रतिबद्धता को दर्शाता है।

कार्यक्रम में, डोर फाउंडेशन ने अपने कुछ छात्र-छात्राओं के उत्कृष्टता को मान्यता दी जिन्होंने जीवन में कई चुनौतियों का सामना करने के बावजूद अपने कॉलेजों में टॉप किया है।

डोर ने अब तक कुल 175 छात्रों की मदद की है, जो देहरादून और रूड़की के 16 अलग-अलग निजी कॉलेजों में 60 व्यावसायिक पाठ्यक्रम में पढ़ रहे हैं। आने वाले 5 वर्षों में, उनका लक्ष्य हरिद्वार और उधम सिंह नगर जैसे जिलों को कवर करना है ताकि प्रति वर्ष 500 छात्रों को प्रवेश दिया जा सके। 250 छात्रों के लिए एक हॉस्टल बनाने का लक्ष्य भी है जिससे उत्तराखंड के ग्रामीण और पहाड़ी क्षेत्रों से आने वाले बच्चों को मुफ्त भोजन और निवास उपलब्ध हो सके।

कार्यक्रम का संचालन सेज पब्लिकेशन से सोनिया कुमार, सुगता घोष और दिनेश ने किया, जो डोर फाउंडेशन के पहले संस्थागत दानकर्ता भी हैं। ड्रीमक्राफ्ट कंप्यूटर्स के एमडी नितिन जैन ने भी संस्था को 20 कम्प्यूटर्स दान किए।

कार्यक्रम में उद्योग जगत के दिग्गजों और समाज के प्रतिष्ठित लोगों ने भी अपनी सहभागिता निभाई, इस दौरान उत्तराखंड लोक सेवा आयोग के पूर्व अध्यक्ष प्रोफेसर जगमोहन राणा, देवभूमि उत्तराखंड विश्वविद्यालय से अमन बंसल, शिवालिक ग्रुप ऑफ कॉलेज की निदेशक नविता, यूसर्क की निदेशक अनीता रावत, सीआईएमएस और यूएचआईएमटी ग्रुप ऑफ कॉलेज के अध्यक्ष ललित जोशी, केयर कॉलेज ऑफ नर्सिंग के मैनेजिंग डायरेक्टर आर. के. शर्मा, ओहो रेडियो के संस्थापक आरजे काव्य एवं मोनिका, साहस फाउंडेशन के संस्थापक शाहब, नमिता ममगाई, बीएस नेगी आदि गणमान्य लोग उपस्थित रहे।