Home उत्तराखंड जोशीमठ भूधसाव पर सीएम ने ली हाईलेवल मीटिंग, अस्थाई रूप से विस्थापित...

जोशीमठ भूधसाव पर सीएम ने ली हाईलेवल मीटिंग, अस्थाई रूप से विस्थापित किए जाने वाले परिवारों को 6 माह तक प्रति परिवार 4000 रूपए देने के आदेश….

21
SHARE

जोशीमठ में भूं-धसाव के मामले को लेकर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में हाई लेवल मीटिंग सम्पन्न हुई। बैठक में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने संबंधित अधिकारियों से जोशीमठ की स्थितियों की विस्तृत जानकारी ली हैं। मुख्य रूप से सचिव आपदा प्रबंधन, आयुक्त गढवाल मंडल और जिलाधिकारी से सीएम ने जोशीमठ की जानकारी ली।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि तत्काल प्रभाव से सुरक्षित स्थान पर एक बड़ा अस्थाई पुनर्वास केंद्र बनाया जाए। ताकि जोशीमठ शहर के लोगों को वहां पर शिफ्ट कराया जा सके। इतना ही नहीं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि जोशीमठ में सेक्टर और जोनल वार योजना बनाई जाए। इसके अलावा तत्काल डेंजर जोन को खाली करवाया जाए, ताकि कोई अनहोनी घटना न हो सके। वहीं अस्थाई रूप से विस्थापित किए जाने वाले परिवारों को 6 माह तक प्रति परिवार 4000 रूपए देने के आदेश जारी किए गए हैं।

सीएम धामी ने जोशीमठ में अविलंब आपदा कंट्रोल रूम स्थापित करने के निर्देश दिए हैं। बैठक में मुख्य सचिव, सचिव आपदा प्रबंधन, सचिव सिंचाई, पुलिस महानिदेशक, आयुक्त गढ़वाल मंडल, पुलिस महानिरीक्षक एसडीआरएफ, जिलाधिकारी चमोली सहित अन्य अधिकारी मौजूद हैं। इसके अलावा एनडीआरएफ की एक टीम भी वहां भेजी गई है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि, अभी प्रभावित परिवारों और प्रभाव क्षेत्र में आने वाले मकानों में रहने वाले लोगों को सबसे पहले सुरक्षित किया जाएगा। राहत बचाव का कार्य पूरी निगरानी में किया जा रहा है। दीर्घकाली और तत्काली स्थिति में लोगों के लिए अच्छा काम कैसे करें इस पर बात हुई है। साथ ही निकट भविष्य में पुनर्वास की क्या नीति होगी उन पहलुओं पर बात हुई। लोगों की हर संभव मदद की जाएगी। जान माल की सुरक्षा सबसे ज्यादा जरूरी है। हम अध्ययन भी कर रहें हैं कि पानी का रिसाव कहां से हो रहा है। विभिन्न संस्थानों की मदद ली जा रही है।”

वहीं, जोशीमठ की स्थितियों का जायजा लेने के लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह कल यानी शनिवार 7 जनवरी को सुबह 11:55 बजे जोशीमठ के लिए रवाना होंगे। तय कार्यक्रम के अनुसार देहरादून के पुलिस लाइन से हेलीकॉप्टर के माध्यम से मुख्यमंत्री जोशीमठ के लिए रवाना होंगे। दोपहर 12:50 मुख्यमंत्री जोशीमठ पहुंचेंगे, जहां सीएम जोशीमठ की स्थितियों का धरातलीय निरीक्षण करेंगे। इसके बाद दोपहर 2:30 बजे के करीब मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जोशीमठ से देहरादून के लिए रवाना होंगे।

बैठक में सीएम धामी को अधिकारियों की तरफ से जानकारी दी गई है कि जोशीमठ नगर पालिका क्षेत्र में 600 से ज्यादा घरों में दरारें आई हैं। इसके अलावा अभी तक 38 परिवारों को अस्थाई रूप से सुरक्षित स्थानों पर विस्थापित किया गया है। क्षेत्र में कई इलाको में लगातार दरारे बढ़ रही है। ऐसे में जल्द ही बड़ी संख्या में जरुरतमंद परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट किया जाएगा।