Home अपना उत्तराखंड बदरीनाथ जा रहे यात्रियों की बस खाई में गिरने से बची…

बदरीनाथ जा रहे यात्रियों की बस खाई में गिरने से बची…

1058
SHARE

किसी भी यात्रा पर निकलने से पहले हम भगवान को याद जरूर करते हैं, खासकर पहाड़ी इलाकों में तो यात्रा भगवान भरोसे ही होती है। जैसे ही बस गहरी खाई के किनारे से गुजरती है, दिल बैठ सा जाता है…हम सोचने लगते हैं कि बस ये सफर किसी तरह खत्म हो जाए….चेन्नई से बदरीनाथ जा रहे यात्री भी उस वक्त कुछ ऐसा ही सोच रहे थे, जब उनकी बस गहरी अलकनंदा नदी में गिरते-गिरते बची। काफी देर तक तो ये यात्री इस बात पर यकीन ही नहीं कर पाए कि उनकी जान बच गई है, वो दहशत में तो थे, लेकिन खुश भी थे। घटना चमोली की है, जहां बदरीनाथ नेशनल हाइवे पर सवारियों से भरी बस अलकनंदा नदी में गिरने से बच गई। पता चला है कि बस का अगला पहिया सड़क के नीचे चला गया था, बस रुकने में एक सेकेंड की भी देरी हुई होती तो बस सीधे अलकनंदा नदी में गिरती। घटना गुरुवार सुबह साढ़े आठ बजे की है, चेन्नई से आए यात्री भगवान के भजन गाते हुए बदरीनाथ यात्रा के लिए जा रहे थे।

समुद्र किनारे से ऊंचे पहाड़ों की यात्रा पर आए ये श्रद्धालु डरे हुए तो थे पर भगवान का नाम लेते-लेते सफर कट जाने का इंतजार कर रहे थे। बस में चेन्नई से आए 26 यात्री सवार थे। गढ़वाल मंडल विकास निगम की बस जोशीमठ के पास पहुंची ही थी कि अचानक ड्राइवर का बस पर कंट्रोल नहीं रहा। गाड़ी का अगला पहिया सड़क से नीचे चला गया। वो तो शुक्र है कि किसी तरह ड्राइवर ने बस रोक दी, वरना सवारियों से भरी बस सीधे अलकनंदा नदी में जा गिरती, बड़ा हादसा हो जाता। हादसे की सूचना मिलते ही बचाव टीम मौके पर पहुंची और किसी तरह श्रद्धालुओं को बस से बाहर निकाला, बाद में उन्हें दूसरी गाड़ियों से बदरीनाथ के लिए रवाना किया गया। जान बच जाने पर श्रद्धालु भगवान को धन्यवाद दे रहे थे…इन दिनों पहाड़ों में मौसम खराब है, इसलिए सफर पर निकलते वक्त आप भी सावधान रहें।