Home अपना उत्तराखंड केदारनाथ धाम में बर्फबारी थमने से राहत, ठप पड़े पुनर्निर्माण कार्यों में...

केदारनाथ धाम में बर्फबारी थमने से राहत, ठप पड़े पुनर्निर्माण कार्यों में आयेगी तेजी

1067
SHARE
बीते रोज पुर्ननिर्माण कार्यों में लगे 28 कर्मी सकुशल सोनप्रयाग लौट चुके हैं। रामबाड़ा तक पूरा पैदल मार्ग भारी बर्फ व ग्लेशियरों से अटा पडा है। पैदल चलने के लिए भी रास्ता नहीं दिख रहा है। धाम में पिछले एक हफ्ते से विद्युत, संचार व पेयजल आपूर्ति ठप है, सिर्फ डीएसबीटी सिस्टम के जरिये ही धाम में बातचीत हो पा रही है। बताया जा रहा है कि धाम में अभी भी वुडस्टोन कंपनी के 34 लोग मौजूद हैं। साथ ही पुलिस व जीएमवीएन के कर्मचारी भी मौजूद हैं।

केदारनाथ धाम में पारा माइनस से 15-20 डिग्री तक पहुंच चुका है। कडाके की इस ठंड में बर्फ को उबालकर ही पीने लायक पानी तैयार किया जा रहा है। जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने बताया कि धाम में अभी भी 34 लोग मौजूद हैं। उन्हें भी कहा गया है जो लोग सोनप्रयाग लौटना चाहते वो आ सकते हैं। जिलाधिकारी घिल्डियाल के मुताबिक धाम में खाद्यान भरपूर की व्यवस्था है। इसके साथ ही मेडिकल स्टाफ और दवाइयां भी उपलब्ध हैं।

रविवार के केदारनाथ धाम में मौसम साफ होने से थोड़ी राहत मिली है। जिसके बाद प्रशासन ने धाम की सभी व्यवस्थाओं को सुचारु करने के लिए आज एसडीआरएफ और विद्युत विभाग के कर्मचारियों की संयुक्त टीम को विद्युत पोल लेकर धाम रवाना किया गया है। बताया जा रहा है कि भारी बर्फबारी से विद्युत पोल क्षतिग्रस्त हो गए हैं और जैसा संभव होगा ये टीम लाइन को दुरस्त करने का काम करेगी।

इसके साथ ही जिलाधिकारी का कहना है कि केदारनाथ धाम में हालात अभी सामान्य हैं और वहां रह रहे लोगों को किसी भी प्रकार की कोई परेशानी नहीं है।