Home अपना उत्तराखंड मित्र पुलिस के जवानों ने पेश की मानवता की मिसाल

मित्र पुलिस के जवानों ने पेश की मानवता की मिसाल

1009
SHARE

मानवता से बड़ा कोई धर्म नहीं होता, असहायों की सहायता से बड़ी कोई पूजा नही होती। इस कहावत को चरितार्थ कर रहे हैं उत्तराखंड पुलिस के जनपद हरिद्वार के जवान। उत्तराखण्ड पुलिस दिन-रात जनता की सेवा के लिए तत्पर है।

Image may contain: one or more people and car

गुरूवार 04 अप्रैल को जनपद हरिद्वार के कनखल थाने में तैनात कांस्टेबल हसलवीर सिंह और हरीश पांडेय पेट्रोलिंग डयूटी पर थे। इसी दौरान सुबह लगभग तीन बजे एक व्यक्ति जगजीतपुर लक्सर राजमार्ग पर अपनी मां के साथ खड़ा था। व्यक्ति कुछ परेशान दिखाई पड़ रहा था। दोनों पुलिसकर्मियों ने इतनी रात को रुकने का कारण व समस्या पूछी। युवक ने अपना नाम धर्मेंद्र आर्य निवासी फेरुपुर हरिद्वार बताया और कहा कि हम लोग नैनीताल से वापस आ रहे हैं। सिंहद्वार के समीप कार का टायर पंचर हो गया। रात्रि में कोई मैकेनिक नही मिल रहा है और न ही टायर बदलने का सामान है। मित्र पुलिस के दोनों जवानों ने उन्हें परेशान होता देख सांत्वना दी। तुरंत चौकी जाकर जैक व अन्य सामान लाये और उनकी कार का पहिया बदल कर उन्हें सकुशल रवाना किया। उत्तराखंड पुलिस के इस मानवीय व्यवहार को देख धर्मेंद्र व उसकी मां ने सहृदय धन्यवाद​ दिया और कहा गया सब लोग एक जैसे नही होते, जनता को भी पुलिस के प्रति अपनी सोच बदलनी चाहिये व जरूरत पर पुलिस की मदद करनी चाहिये।