Home अपना उत्तराखंड अल्मोड़ा अल्मोड़ा- बग्वालीपोखर के जंगल में आग बुझाने गए युवक रास्ता भटके, पूरी...

अल्मोड़ा- बग्वालीपोखर के जंगल में आग बुझाने गए युवक रास्ता भटके, पूरी रात जंगल में बीती…

32
SHARE

अल्मोड़ा जनपद के बग्वालीपोखर के जंगल में रास्ता भटकने से चार युवक लापता हो गए। लापता युवकों की खोजबीन के लिए द्वाराहाट पुलिस वह एसडीआरएफ में जंगल में सर्च अभियान चलाया और चारों युवकों को सकुशल बरामद कर लिया। यह सभी युवक जंगल में आग बुझाने गए थे, लेकिन वापस लौटते समय रास्ता भटक गए जिसके कारण इन्हें पूरी रात जंगल में ही काटनी पड़ी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार कमल कन्याल पुत्र जी एस कन्याल निवासी देवलचौड़ हल्द्वानी नैनीताल उम्र 21बर्ष, अभय परीहार पुत्र नन्द किशोर निवासी देवलचौड हल्द्वानी उम्र 21वर्ष, राहुल पाण्डे पुत्र अनिल पाण्डे निवासी कौसानी अल्मोड़ा उम्र 21वर्ष, राजेश राणा पुत्र पुष्कर सिह राणा निवासी सोमेश्वर अल्मोड़ा उम्र 22वर्ष, 25 अप्रैल को लोद स्थित बग्वालीपोखर के जंगल में आग बुझाने गए थे, लेकिन वापसी में रास्ता भटकने से वन क्षेेत्र में ही फंस गए और वापस नहीं लौट सके।

जिसके बाद इनके परिजनों ने इसकी सूचना द्वाराहाट पुलिस को दी। 26 अप्रैल की रात्रि कंट्रोल रुम अल्मोड़ा से सूचना मिली की लोद बग्वालीपोखर के जंगलों में चार युवक रास्ता भटक गये है, सूचना प्राप्त होने पर प्रभारी बग्वालीपोखर निखिलेश विष्ट ने त्वरित कार्यवाही करते हुए एसडीआरएफ टीम के साथ रात्रि से सर्च अभियान चलाया। परंतु काफी खोजबीन के पश्चात उक्त लोगों का कोई पता नहीं चल पाया व रात्रि अधिक होने के कारण सर्चिंग ऑपरेशन रोका गया।

एसडीआरएफ टीम द्वारा आज दिनांक 27 अप्रैल 2022 को भोर होते ही पुनः सर्चिंग के लिए टीम तत्काल घटनास्थल पर पहुंची व सर्चिंग शुरू की, सर्चिंग के दौरान उक्त लोगों को उदयपुर गोलज्यू मंदिर के पास से सकुशल ढूंढकर स्थानीय पुलिस के सुपुर्द किया गया।

बताया जा रहा है कि यह चारों छात्र B.S.E. अल्मोड़ा में अध्ययनरत हैं। यह सभी छात्र 25 अप्रैल को डीएफओ अल्मोड़ा के साथ जंगल आग बुझाने गए थे, आग बुझाते वक्त एक-दूसरे से बिछड गए 26 अप्रैल को पूरा दिन जंगल में भटकते रहे। इन्होंने फोन पर अपने दोस्तों को रास्ता भटकने की सूचना दी, जिसके बाद इनके दोस्तों ने डीसीआर अल्मोड़ा को सूचित किया। युवकों द्वारा पुलिस को अपनी लोकेशन भेजी, लेकिन रात्र में अधिक अंधेरा होने के कारण पुलिस व एसडीआरएफ टीम इन तक नहीं पहुंच पाई। बुधवार सुबह रेस्क्यू अभियान चलाकर एसडीआरएफ टीम व स्थानीय पुलिस ने उक्त लोगों को उदयपुर गोलज्यू मंदिर के पास से सकुशल ढूंढकर स्थानीय पुलिस के सुपुर्द किया गया।